“निन्दा निन्दा निन्दा …MMS भी निन्दा करता था तुम भी निन्दा करते हो ?? 56″ कहाँ गया अब”

1

उरी में आज एक आतंकवादी हमले में 17 भारतीय सैनिकों की जान चली गयी। पिछले एक दशक में सैनिक ठिकाने पर होने वाला ये सब से बड़ा आतंकी हमला था।

रिपोर्ट्स के अनुसार कम से कम 19 जवान इस समय ज़ख़्मी हैं।

Militants have attacked an army base in Indian-administered Kashmir, killing at least 17 soldiers, the army says. Four of the attackers were killed. Express Photo By Shuaib Masoodi 13-09-2016
Express Photo

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उरी में होने वाले आतंकवादी हमले पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि इस हमले के दोषी बच नहीं पाएंगे। उन्होंने अपने ट्वीट में कहा, ” हम उरी में होने वाले इस बुज़दिलाना आतंकी हमले की भरपूर निंदा करते हैं। मैं राष्ट्र को आश्वस्त करना चाहता हूँ को कि इस घृणित हमले के पीछे लोगों को सज़ा ज़रूर मिलेगी। ”

उन्होंने आगे कहा, “हम उरी में होने वाले उन सभी शहीद को सलाम करता हूं। राष्ट्र के प्रति उनकी सेवा को हमेशा याद किया जाएगा। मैं शोक संतप्त परिवारों के प्रति संवेदना प्रकट करता हूँ। मैंने इस स्थिति पर गृहमंत्री और रक्षामंत्री से बात की है। कीहै। रक्षामंत्री स्थिति का जाएज़ लेने केलिए खुद कश्मीर जाएंगे। ”

इस घटना पर ट्विटर पर केंद्र की भाजपा सरकार और प्रधानमंत्री मोदी की जैम कर आलोचना शुरू हो गयी है।

Also Read:  अमरनाथ आतंकी हमला: पुलिस का दावा- लश्कर ने दिया था हमले को अंजाम, 3 आरोपी गिरफ्तार

लोगों ने लोकसभा चुनाव के दौरान मोदी द्वारा पाकिस्तान पर दिए गए उत्तेजित बयान के वीडियो शेयर करना शुरू कर दिया हैं जिनमें मोदी ने पकिस्तान को ‘पकिस्तान की भाषा में’ सबक़ सिखाने की बात की थी।

हैशटैग #सैनिकों_हम_शर्मिंदा_हैं बड़ी तेज़ी से ट्विटर पर ट्रेंड हुआ और कुछ ही समय में राष्ट्रिय स्तर पर एक बड़े ट्रेंड के रूप में उभरा।

इस हैशटैग के तहत ट्विटर यूज़र्स ने मोदी और केंद्र सरकार के साथ साथ रक्षामंत्री की भी जैम कर खिंचाई की।

मनोहर पर्रिकर हाल के दिनों में कई विवादों से घिरे रहे हैं। कल उन्होंने अरविन्द केजरीवाल की बीमारी का मज़ाक़ उड़ाते हुए कहा था की डॉक्टरों को उनकी जीभ इसलिए काटनी पड़ी क्योंकि वो उसका इस्तेमाल मोदी की आलोचना करने केलिए करते थे।

कुछ दिनों पहले पर्रिकर ने ये भी माना था कि उन्होंने आमिर के खिलाफ एक मुहीम में हिस्सा लिया था। भाजपा समर्थकों ने आमिर द्वारा असहिष्णुता पर दिए गए बयान के बाद स्नैपडील कंपनी पर आमिर के साथ नाता तोड़ने केलिए ऑनलाइन मुहीम की शुरुआत की थी।

Also Read:  बीफ खाने की अफवाह पर कश्मीरी छात्रों की राजस्थान में हुई पिटाई

पेश हैं ट्विटर पर इस मुद्दे पर कुछ ख़ास टिप्पणियां :

 

 

1 COMMENT

  1. Sainiko you all go on mass leave, Please do not waste your valuable life for jumlebaaz govt. Ask the govt. to send their pure nationalists gaurakshaks on the border

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here