सोशल मीडिया: ‘जी न्यूज और टाइम्स नाउ के बाद मोदीजी को सोचना पड़ेगा आखिर कौन राष्ट्रवादी न्यूज चैनल है जिसको वो अपना बहुमूल्य समय दें’

0

जी न्यूज के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार (21 जनवरी) अंग्रेजी न्यूज चैनल टाइम्‍स नाउ को इंटरव्‍यू दिया। चैनल पर इस इंटरव्यू का प्रसारण रविवार रात 9 बजे किया गया। टाइम्‍स नाउ की ओर से चैनल के एडिटर इन चीफ राहुल शिवशंकर और मैनेजिंग एडिटर नाविका कुमार ने पीएम मोदी से तमाम सवाल पूछे।इस इंटरव्यू में पीएम मोदी से जीडीपी, सुप्रीम कोर्ट के जजों का विवाद, तीन तलाक, पाकिस्तान, राष्‍ट्रगान, आम बजट, कांग्रेस मुक्त भारत, सहित तमाम मुद्दों से जुड़े सवाल पूछा गया है। बता दें कि इससे पहले जी न्यूज पर संपादक सुधीर चौधरी ने पीएम मोदी का इंटरव्यू लिया था।

प्रधानमंत्री मेदी ने नोटबंदी और जीएसटी के फैसले की आलोचना के लिये परोक्ष तौर पर विपक्ष को आड़े हाथों लेते हुए आरोप लगाया कि ऐसे लोगों ने कालेधन की जमाखोरी और भ्रष्टाचार करने वालों को बचाने का हर संभव प्रयास किया। फैसले को देश की जनता का समर्थन मिलने का दावा करते हुए मोदी ने कहा कि नोटबंदी एक बहुत बड़ी सफलता है।

प्रधानमंत्री ने टाइम्स नाउ चैनल को दिये इंटरव्यू में कहा कि कांग्रेस देश की राजनीति का मुख्य स्तंभ रही है, जिसकी संस्कृति का प्रसार सभी राजनीतिक दलों तक हुआ। इंटरव्यू में उन्होंने कहा कि कांग्रेस मुक्त भारत का उनका नारा प्रतीकात्मक है और वह चाहते हैं कि कांग्रेस भी ‘कांग्रेस संस्कृति’ से मुक्त हो जाए।

वहीं, राज्यसभा में तीन तलाक से जुड़े विधेयक का विरोध करने के लिए भी कांग्रेस को आड़े हाथ लेते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि उसे वोट बैंक की राजनीति करने के बजाय पीछे की ओर ले जाने वाली इस सोच से छुटकारा पाना चाहिए। वहीं, न्यापालिका संकट पर अपनी पहली टिप्पणी में प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि सरकार और राजनीतिक पार्टियों को अवश्य ही इससे दूर रहना चाहिए।

साथ ही, उन्होंने भरोसा जताया कि न्यायपालिका अपनी समस्याओं का समाधान निकालने के लिए एक साथ बैठेगी। पीएम मोदी ने कहा कि हमारे देश की न्यायपालिका का एक बहुत ही उत्कृष्ट अतीत रहा है, वे बहुत ही सक्षम लोग हैं। वे एक साथ बैठेंगे और अपनी समस्याओं का समाधान निकालेंगे।

वहीं प्रधानमंत्री मोदी ने इस धारणा को सिरे से खारिज किया कि भारत, पाकिस्तान को अलग थलग करने के लिये पूरा जोर लगा रहा है । उन्होंने जोर दिया कि उनका प्रयास आतंकवाद को परास्त करने के लिए दुनिया की ताकतों को एकजुट करने का है, क्योंकि देश दशकों से इस बुराई से पीड़ित है।

टाइम्स नाउ को लोगों ने किया ट्रोल

रविवार सुबह इंटरव्यू का प्रोमो जारी होने के बाद से ही ट्विटर पर #PMModiSpeaksToTimesNow ट्रेंड करने लगा, जो रात तक करता रहा। इस हैशटैग के जरिए सोशल मीडिया यूजर्स द्वारा जी न्यूज की तरह ही टाइम्‍स नाउ को भी जमकर ट्रोल किया गया।

इंटरव्यू के बाद से ही सोशल मीडिया पर चुटकुलों की बाढ़ सी आ गई है। माई वोट टुडे नाम के ट्विटर हैंडल से लिखा गया है, ‘जी न्यूज और टाइम्स नाउ के बाद मोदीजी को सोचना पड़ेगा आखिर कौन राष्ट्रवादी न्यूज चैनल है जिसको वो अपना बहुमूल्य समय दें।’

देखिए, कुछ मजेदार ट्वीट:-

https://twitter.com/myvotetoday/status/955259975504355330

https://twitter.com/DesiPoliticks/status/955092621508083712

https://twitter.com/DesiPoliticks/status/954948564504973312

https://twitter.com/AnupunKher/status/954760535706390530?ref_src=twsrc%5Etfw&ref_url=https%3A%2F%2Fwww.jansatta.com%2Ftrending-news%2Ftwitter-users-started-trolling-pm-modi-and-times-now-after-the-interview%2F555166%2F

https://twitter.com/DesiPoliticks/status/955108879872020480

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here