“तो क्या बीजेपी वालों ने खुद गाय काट कर फेंकी, खुद अपने गुंडे भेज कर दंगा करवाया और फिर पुलिस वाले को मरवा दिया?”

0
4
गाय

उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर जिले के स्याना में गौकशी के शक में हुई भीड़ की हिंसा व बवाल में कथित संलिप्तता के लिए पुलिस ने मंगलवार (4 दिसंबर) को चार व्यक्तियों को गिरफ्तार किया। इसके अलावा करीब चार से पांच लोगों को हिरासत में भी लिया गया है।

हालांकि, इस मामले में मुख्य आरोपी बजरंग दल का जिला संयोजक योगेश राज अभी भी फरार है। बता दें कि सोमवार (3 दिसंबर) को हुए इस हिंसा में स्याना के थाना प्रभारी सुबोध कुमार सिंह और एक 20 वर्षीय युवक सुमित कुमार की मौत हो गई थी।

गाय

इस घटना को लेकर योगी सरकार विपक्षी पार्टियों के निशाने पर आ गई है। इसी बीच, आम आदमी पार्टी (आप) के राष्ट्रीय संयोजक और दिल्‍ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बीजेपी पर जोरदार हमला बोला है।

बुलंदशहर हिंसा में ‘साजिश की बू’

दरअसल, सोशल मीडिया पर एक सनसनीखेज वीडियो सामने आया है जो तेजी से वायरल हो रहा है। वायरल वीडियो में साफ पता चलता है कि बुलंदशहर हिंसा में साजिश की बू आ रही है। टीवी पत्रकार विनोद कापड़ी ने अपने ट्विटर हैंडल पर एक वीडियो शेयर किया है। वीडियो में दिख रहा है कि प्रदर्शनकारी ट्रॉली में मौजूद किसी चीज की बात कर रहे हैं।

इस वीडियो में एक आवाज सुनाई दे रहा है जिसमें कोई कह रहा है कि कुंदन ने काटी है। शायद यह प्रदर्शनकारी गाय काटने की बात कर रहे हैं। हालांकि, ‘जनता का रिपोर्टर’ इस वीडियो की सच्चाई की पुष्टि नहीं करता है। वहीं, यह वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद विनोद कापड़ी ने ट्वीट कर कहा कि इसका पूरा वीडियो उन्होंने यूपी पुलिस के साथ शेयर कर दिया है।

इसी वीडियो को शेयर करते हुए दिल्‍ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बुधवार (4 दिसंबर) को ट्विटर पर लिखा, “तो क्या भाजपा वालों ने ख़ुद गाय काट कर फेंकी, ख़ुद अपने गुंडे भेज कर दंगा करवाया और फिर पुलिस वाले को मरवा दिया?”

बता दें कि बुलंदशहर जिले के स्याना इलाके में दक्षिणपंथी कार्यकर्ताओं समेत करीब 400 लोगों की भीड़ ने सोमवार को पुलिस के साथ मारपीट की। यह हिंसा पास के जंगल में गाय के कंकाल होने की जानकारी मिलने से दक्षिणपंथी समूहों के कार्यकर्ताओं के आक्रोशित होने के बाद भड़की।

गुस्साई भीड़ ने इस दौरान पुलिस पर पथराव करते हुए पुलिस के कई वाहनों में आग लगा दी और उन पर गोलियां भी चलाईं। पुलिस ने जवाबी कार्रवाई की। इस हिंसा में स्याना के थाना प्रभारी सुबोध कुमार सिंह और 20 वर्षीय युवक सुमित कुमार की मौत हो गई थी।

पुलिस ने मंगलवार को कहा कि चार लोगों को गिरफ्तार किया गया है लेकिन मुख्य आरोपी, बजरंग दल का जिला संयोजक योगेश राज फरार है। उन्होंने बताया कि प्राथमिकी में 27 लोगों को नामजद किया गया है जबकि 50 से 60 अज्ञात लोगों के खिलाफ मामले दर्ज किए गए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here