जवानों की शहादतः पूर्व अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी ने स्मृति ईरानी को भेजा 1,000 रुपये का चैक, कहा चूड़ियाँ खरीद कर PM मोदी को भेंट किजिए

0

गुरूवार तड़के जम्मू-कश्मीर के कुपवाड़ा में सेना के कैंप पर बड़ा आतंकी हमला हुआ जिसमें भारतीय फौज के 1 कैप्टन सहित 3 जवान शहीद हो गए थे। इस बात को लेकर PM मोदी को भी लोगों ने ट्वीट कर अपनी नाराजगी जताई थी जब उन्होंने विनोद खन्ना को ट्वीटर पर श्रद्धांजलि दी थी।

स्मृति ईरानी

इसके अलावा सोशल मीडिया पर इस बात को लेकर मोदी सरकार से लोग खासे नाराज हो रहे है। ताजा मामले में लखनऊ के रहने वाले पूर्व अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी अजीत वर्मा ने स्मृति ईरानी को एक हजार रुपये का चैक भेजा है। ये चैक स्मृति ईरानी को इस खिलाड़ी ने इसलिए भेजा है जिससे की वह इन रुपयों से चूड़ियाँ खरीद कर PM मोदी को भेंट कर सकें।

अजीत वर्मा ने 2001 में एशियन क्रांस क्रंटी दौड़ (8 किलोमीटर) में देश के लिए सिल्वर मेडर जीता है। ‘जनता का रिपोर्टर’ से बात करते हुए अजीत ने बताया कि वह सरकार या प्रधानमंत्री का विरोध नहीं कर रहे बल्कि वह चाहते है कि सरकार इस पर ध्यान दे। अजीत ने कहा कि जो सैनिक शहीद हो रहे है वो भी किसी के बेटे है, भाई है और गरीब परिवारों से है। कब तक इनकी कुर्बानियां ऐसे ही दी जाती रहेगी।

Also Read:  सुषमा स्वराज को पुणे के स्मिथ राज ने ट्वीटर पर दिलाया गुस्सा

प्रधानमंत्री मोदी को इस पर ठोस कदम उठाने चाहिए। उन्होंने आज सुबह 11 बजे के लगभग स्पीड पोस्ट से हजार रुपये का चैक स्मृति ईरानी को भेजा। उन्हें उम्मीद है कि इस चैक के माध्यम से सरकार हमारे सैनिको पर ध्यान देगी। अजीत ने बताया कि अभी तक स्मृति ईरानी या सरकार के अन्य विभाग की और से उन्हें इस बाबत किसी भी प्रकार से सूचित नहीं किया गया है, लेकिन वह उम्मीद करते है कि कपड़ा मंत्री इस बात को लेकर प्रधानमंत्री को अवगत करायेगी।

आपको बता दे कि स्मृति ईरानी को चैक भेजने के पीछे 2013 में दिया गया उनका एक भाषण है जो उन्होंने उस समय के प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के खिलाफ दिया था। उन्होंने एक जनसभा में बोलते हुए कहा था कि मन करता है कि केन्द्र की बैठी हुई कांग्रेस की इस सरकार को अपनी ये चूड़ियाँ भेंट कर दूं, और कहूं कि तुम पहन कर देखों जरा, वो इसलिए कि जब पाकिस्तान से आकर 10 लड़कों ने जब हम पर हमला किया, तो ये कांग्रेस पार्टी न सिर्फ तमाशा देख रही थी, बल्कि पाकिस्तान के आगे हाथ फैला रही थी कि हमें न्याय दो भय्या।

अपने इस भाषण में स्मृति ईरानी ने जोरदार तरीके से प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह पर हमला बोला था और चूड़ियाँ भेंट करने की बात कहीं थी जिसके बाद काफी विवाद हुआ था। आज जब केन्द्र में मोदी सरकार है और परिस्थितियां फिर से उसी तरह की बन गई तब स्मृति ईरानी को अपना वादा याद दिलाने के लिए एथलिट में अंतरराष्ट्रीय स्तर पर देश को सिल्वर मेडल दिलाने वाले इस पूर्व खिलाड़ी ने बीजेपी की कपड़ा मंत्री को एक हजार रूपये का चैक भेजा है।

Also Read:  पशुओं की खरीद-बिक्री को लेकर केंद्र सरकार के आदेश पर मद्रास हाई कोर्ट ने 4 हफ्ते की लगाई रोक

आपको बता दे कि गुरुवार (27 अप्रैल) को सुबह चार बजे के करीब हथियारों से लैस दो से चार आतंकवादियों ने सेना के 310 जीआर रेजीमेंट के कैंप पर हमला कर दिया था। हमले के दौरान आतंकी सेना की वर्दी में थे और उस समय जवानों का एक दल नियमित गश्त के लिए कैंप से बाहर जाने वाला था और रात को गश्त के लिए बाहर गए दल ने भीतर आना था।

Also Read:  इलाहाबाद HC ने योगी सरकार को लगाई लताड़, कहा- नॉनवेज खाने से नहीं रोक सकते, बूचड़खानों को जारी करे लाइसेंस

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here