स्मृति ईरानी फ़र्ज़ी डिग्री केस: EC ने सौंपे सर्टिफिकेट, मंगलवार को आएगा फैसला

0

केंद्रीय कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी की डिग्री पर चल रहे विवाद में दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट 18 अक्टूबर को अपना फैसला सुनाएगी। अदालत ने चुनाव आयोग से चुनावी हलफनामें के दौरान स्मृति ईरानी द्वारा पेश किए गए सर्टिफिकेट मांगे थे। शनिवार को चुनाव आयोग ने ये दस्तावेज अदालत में पेश कर दिए। अदालत ने इस मामले में अगली सुनवाई के लिए 18 अक्टूबर की तारीख तय की है।

Also Read:  Court uses 'great delay of 11 years' argument to dismiss case against Irani, social media users react in disbelief

इस मामले में अर्जी दाखिल कर ईरानी को अदालत में तलब करने की मांग की गई थी। याचिका में आरोप लगाया गया था कि स्मृति ईरानी ने चुनाव आयोग के समक्ष दाखिल हलफनामों में अपनी शैक्षणिक योग्यता के बारे में जानबूझकर गुमराह करने वाली सूचना दी थी और जनप्रतिनिधित्व कानून की धारा 125 और आईपीसी के प्रावधानों के तहत यदि कोई उम्मीदवार जानबूझकर गलत जानकारी देता है तो उसे सजा दी जा सकती है।

Also Read:  J&K: पाक ने सात महीने में 285 बार किया सीजफायर का उल्लंघन, गोलीबारी में एक और जवान शहीद
Congress advt 2

गौरतलब है कि कोर्ट ने आयोग से कहा था कि वह वर्ष 2004 में दिल्ली की चांदनी चौक विधानसभा सीट से चुनाव लड़ते समय स्मृति ईरानी द्वारा प्रस्तुत किए गए दस्तावेजों की प्रति पेश करे। अदालत ने कहा कि अभी कुछ बिंदुओं पर स्पष्टीकरण की जरूरत है।

Also Read:  मोदी सरकार की योजना पर आलोचना लिखने वाली महिला IAS अधिकारी को कारण बताओ नोटिस

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी डिग्री के बाबत कथित तौर पर गलत सूचना देने के मामले की सुनवाई कर रही अदालत ने चुनाव अयोग से ईरानी के सत्यापित दस्तावेज पेश करने को कहा था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here