‘अच्छे दिन’ का रहस्य, मतदाताओं को बेचा गया जुमला : सीताराम येचुरी

0

“अच्छे दिन के सरकार की ‘गर्दन का बोझ बनने’’ संबंधी केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी के बयान के सुर में सुर मिलाते हुए माकपा महासचिव सीताराम येचुरी ने कहा कि मतदाताओं को ‘‘बेचा गया जुमला’’ अब सत्तारूढ़ भाजपा के ‘गले में अटकी हड्डी’ बन गया है.

Also Read:  मुंबई: फेसबुक पर लाइव होने के बाद 19वीं मंजिल से छात्र ने कूदकर की आत्महत्या

भाषा की खबर के अनुसार, येचुरी ने ट्विटर पर कहा, लापता अच्छे दिन का रहस्य: मतदाताओं को बेचा गया जुमला, अब भाजपा के गले में अटकी हड्डी बन गया है. गडकरी ने कल मुंबई में एक समारोह में कहा था कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का ‘अच्छे दिन’ का मशहूर नारा दरअसल पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने दिया था, लेकिन यह नारा अब मोदी सरकार की गर्दन का ‘बोझ’ बन गया है।

Also Read:  Watch video: Will not let Muslim family live in Hindu area: UP BJP leader's threat to police

उन्होंने कहा था, अच्छे दिन मानने से होता है. दिल्ली में एक एनआरआई समारोह में मनमोहन सिंह ने कहा था कि ‘अच्छे दिन आएंगे’. केंद्रीय मंत्री ने कहा, जब पूछा गया कि ‘अच्छे दिन’ कब आएंगे, तो सिंह ने जवाब दिया था – ‘भविष्य में’. मोदी जी ने यही बात कही और अब यह हमारी गर्दन का ‘बोझ’ बन गया है.

Also Read:  J&K Police needs no certificate on nationalism from those whose valour doesn't extend beyond keypads

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here