सीरिया में मासूम बच्चों के कत्लेआम पर टीवी शो के दौरान भावुक हुए सिंगर दिलजीत दोसांझ, मदद के लिए ‘खालसा एड’ को दिया धन्यवाद

0

सीरिया में बशर अल-असाद सरकार द्वारा विद्रोहियों के खात्मे के नाम पर मासूम बच्चों के हो रहे कत्लआम की तस्वीर देखकर पूरा विश्व विचलित है। सीरियाई सरकार द्वारा किए जा रहे हवाई हमलों मासूम बच्चों सहित 600 से अधिक बेगुनाह लोगों की मौत हो चुकी है। सीरिया सरकार के खिलाफ विश्वभर में विरोध प्रदर्शन हो रहा है। सीरिया से बाहर आई मासूम बच्चों की कुछ तस्वीरों ने पूरी दुनिया का कलेजा छलनी कर दिया है।मासूम बच्चों सहित बेगुनाह लोगों पर उनकी ही हुकूमत बम पर बम बरसा रही है। आसमान से बरसते इन बमों को बरसाने वालों के लिए इस बात के कोई मतलब या मायने नहीं है कि बम किनके सीने पर फट रहे हैं। मरने वाले अपने ही बेगुनाह लोग हैं, बेबस औरतें या मासूम बच्चे। उन्हें कोई फिक्र नहीं, क्योंकि सारी लड़ाई कुर्सी की है। विश्व समुदाय की आपत्ति के बावजूद भी सीरियाई राष्ट्रपति बशर अल-असद ने स्पष्ट कहा है कि बमबारी जारी रहेगी।

भावुक हुए अभिनेता दिलजीत दोसांझ

सीरिया में हजारों हवाई हमले रिहायसी जगहों पर गिराकर मासूम बच्चों, महिलाओं और लोगों की हो रही मौतों पर कलर्स टीवी पर प्रसारित होने वाले सिंगिग रिएलिटी शो ‘राइजिंग स्टार’ के जज और अपनी खूबसूरत आवाज से सभी को दीवाना कर देने वाले पंजाबी सिंगर व बॉलीवुड अभिनेता दिलजीत दोसांझ भावुक हो गए।

‘उड़ता पंजाब’ और ‘फिल्लौरी’ जैसी फिल्मों में अपने अभिनय से बॉलीवुड प्रशंसकों का दिल जीत चुके दिलजीत दोसांझ ने इस दौरान सीरिया सहित विश्वभर में अमन शांति के लिए मांगी। साथ ही सीरिया में पीड़िता लोगों की मदद करने के लिए अंतरराष्ट्रीय गैर सरकारी सिख संगठन खालसा एड के कार्यकर्ताओं को धन्यवाद दिया।

दोसांझ ने कहा कि, “आज सीरिया में कितनी बड़ी प्रॉब्लम हो रखी है यह हम सबको पता है। ऐसा लगता है कि वहां आज इंसानियत खत्म हो रही है। क्योंकि रोहन प्रित पटियाला है तो मैं यह बात कहना चाहता हूं कि मैं आज देख रहा हूं कि रवि सिंह जी जो खालसा एड से हैं वह वहां (सीरिया) पर जाते हैं और उनकी हेल्प करते हैं और वह बताते हैं वह अकेले नहीं हैं हम सब उनके साथ हैं।”
उन्होंने खालसा एड को धन्यवाद देते हुए कहा कि, “आज मैं खालसा एड का थैंक्स करना चाहता हूं। हमारे मंच का मुख्य उ्ददेश्य यही था कि सोच की दीवार को उठाना। आओ हम सब मिलकर-जुलकर प्यार से रहे और आपसी भाईचारे को मजबूत करें। मैं अरदास (गुजारिश) करना चाहता हूं कि सीरिया सहित पूरे विश्व में शांति बनाए रखें और प्यार से रहें।”

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here