भारतीय नौसेना में शामिल हुईं चार महिलाएं, उत्तर प्रदेश की शुभांगी स्वरूप बनीं पहली महिला पायलट

0

भारतीय नौसेना में पहली बार किसी महिला पायलट की नियुक्ति की गई है। जी हां, उत्तर प्रदेश की शुभांगी स्वरूप जल्द ही मेरीटाइम रिकानकायसन्स विमान उड़ाती दिखाई देंगी। इसके अलावा नई दिल्ली की आस्था सेगल, पुड्डूचेरी की रूपा ए और केरल की शक्ति माया एस को नौसेना की नेवल आर्मामेंट इंस्पेक्टोरेट (एनएआई) शाखा में देश की पहली महिला अधिकारी बनने का गौरव हासिल हुआ है।

PHOTO: PTI

न्यूज एजेंसी भाषा की रिपोर्ट के मुताबिक चारों महिलाओं ने कल एक कार्यक्रम में एझीमाला नौसेना अकादमी में नेवल ओरियन्टेशन कोर्स पास करने के बाद पासिंग आउट परेड में हिस्सा लिया। इस समारोह में नौसेना प्रमुख एडमिरल सुनील लांबा मौजूद थे।

दक्षिणी नेवल प्रवक्ता कमांडर श्रीधर वॉरियर ने पीटीआई-भाषा को बताया कि वैसे तो शुभांगी नौसेना में पहली पायलट हैं लेकिन नौसेना की एविएशन ब्रांच में पहले भी वायु यातायात नियंत्रण अधिकारी और विमान में ‘पर्यवेक्षक’ अधिकारी के तौर पर महिलाएं काम कर चुकी हैं।

एनएआई शाखा पर नौसेना के हथियारों और गोला-बारूद के ऑडिट एवं आकलन की जिम्मेदारी होती है। कमांडर वॉरियर ने कहा कि सभी चारों महिला अधिकारियों को ड्यूटी पर तैनात किए जाने से पहले उनकी चुनिंदा शाखाओं में प्रशिक्षण दिया जाएगा।

शुभांगी को हैदराबाद में वायुसेना अकादमी में प्रशिक्षण दिया जाएगा, जहां सेना, नौसेना और वायु सेना के पायलटों को प्रशिक्षण दिया जाता है। यूपी के बरेली की रहने वाली शुभांगी स्वरूप ने कहा कि मुझे मालूम है कि यह सिर्फ एक रोमांचक अवसर नहीं बल्कि एक बड़ी जिम्मेदारी भी है। शुभांगी के पिता ज्ञान स्वरूप भारतीय नौसेना में कमांडर हैं।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here