सहारनपुर में शोभायात्रा के दौरान उपद्रव मचाने वाले 10 आरोपी गिरफ्तार

0

उतर प्रदेश के सहारनपुर जिले में सड़क दूधली प्रकरण को लेकर एसएसपी आवास की कथित रूप से घेराबंदी कर मुख्य हाइवे पर हंगामा तोड़फोड़ करने के मामले में पुलिस ने रविवार (23 अप्रैल) को 10 लोगों को गिरफ्तार कर लिया।

सहारनपुर
पीटीआई की ख़बर के अनुसार, अपर पुलिस अधीक्षक संजय सिह ने बताया कि तीन दिन पूर्व जनकपुरी थानांतर्गत बाबा साहब की शोभायात्रा निकाले जाने को लेकर दो समुदाओं के बीच झड़प हो गयी थी। उन्होंने बताया कि इसके बाद एसएसपी आवास पर सैकडों लोगों ने कथित तौर पर तोड़फोड़ और राहगीरों के साथ मारपीट की थी।

Also Read:  यूपी: BJP विधायक से मांगी 10 लाख की रंगदारी, नहीं देने पर दी मारने की धमकी

इन दोनों घटनाओं के संबंध में 35 लोगों के विरूद्ध नामजद और 300 से अधिक अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया था। पुलिस ने शनिवार रात दबिश कर 10 लोगों को गिरफ्तार किया है।

Also Read:  योगी आदित्य नाथ को आजम खान की और से भेजा गया खून से लिखा खत- हमसे जो भी बदला लेना हो, ले लिया जाए, लेकिन...

गौरतलब है कि गत 20 अप्रैल को जनकपुरी क्षेत्र के दूधली गांव में अंबेडकर जयंती की शोभायात्रा पर अराजक तत्वों द्वारा आगजनी और पथराव से जुलूस में शामिल भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के सांसद राघव लखनपाल शर्मा और उनके छोटे भाई राहुल लखनपाल शर्मा समेत 12 से अधिक लोग घायल हो गए।  इलाके में तनाव को देखते हुए पुलिस-प्रशासन के आला अधिकारियों को मौके पर पहुंचना पडा था।

Also Read:  पैसे की कमी के कारण 60 किलोमीटर तक ठेले पर पत्नी के शव को लेकर भटकता रहा ये शख्स

दूधली गांव में अतिरिक्त पुलिस बल की तैनाती करनी पडी थी। ग्रामीणों का आरोप था कि जुलूस पर पथराव करने वालों को पुलिस ने रोकने का कोई प्रयास नहीं किया जबकि सांसद शोभायात्रा को सभास्थल तक ले जाने पर अडे थे। करीब आठ हजार की आबादी वाले इस गांव में 70 फीसद मुस्लिम और 25 फीसद से ज्यादा अनुसूचित जाति के लोग रहते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here