VIDEO: हेलिकॉप्टर नहीं उतरने दिया तो शिवराज सिंह चौहान ने कलेक्टर को दी धमकी, बोले- ‘ये पिट्ठू कलेक्टर सुन ले रे, हमारे दिन भी आएंगे, तब तेरा क्या होगा?

0

भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के वरिष्ठ नेता और मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने चुनाव आयोग को ठेंगा दिखाते हुए कलेक्टर को खुली धमकी दी। बुधवार को एक चुनावी सभा में बोलते हुए उन्होंने कहा कि, “अरे पिट्ठू कलेक्टर सुन ले, हमारे दिन भी जल्दी आएंगे, तो तब तेरा क्या होगा!” उनके इस बयान का वीडियो अब सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है।

शिवराज सिंह चौहान
फाइल फोटो: शिवराज सिंह चौहान

दरअसल, मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान उमरेठ में 5 बजे के बाद हेलीकॉप्टर उतारने की इजाजत नहीं मिलने पर वहां के कलेक्टर पर निशाना साध रहे थे। आचार संहिता के तहत कलेक्टर ने शाम 5 बजे के बाद हेलीकॉप्टर उतारने की इजाजत नहीं दी थी। जिस पर शिवराज सिंह भड़क गए और सरकार में आने के बाद कलेक्टर को देख लेने की धमकी देने लगे।

एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए शिवराज सिंह चौहान ने कलेक्टर को धमकी देते हुए कहा, “पश्चिम बंगाल में ममता दीदी, वो नहीं उतरने दे रही थीं। ममता दीदी के बाद कमल नाथ दादा… सत्ता के मद में ऐसे चूर मत होओ। ये पिट्ठू कलेक्टर सुन ले रे, हमारे दिन भी जल्दी आएंगे, तब तेरा क्या होगा?” उनके इस बयान का वीडियो अब सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है।

एनडीटीवी की रिपोर्ट के मुताबिक, बाद में शिवराज ने अपने बयान पर सफाई देते हुए कहा मैं सभा कर रहा हूं दूसरे प्रदेश में अपने प्रदेश के दूसरे हिस्सों में कहीं ऐसा नहीं हुआ कि 5 बजे तक हेलीकॉप्टर उतारो मुझे हेलीकॉप्टर उतारने की अनुमति जो निर्धारित समय है 6 बजे तक दी जाए लेकिन हमारी बात नहीं सुनी गई। आग्रह नहीं सुना गया और हमें विवश किया गया कि 5 बजे तक ही हेलीकॉप्टर उतारो नहीं तो उतरने नहीं देंगे। इसलिये हमें मजबूर होकर मैंने तय किया कि मैं हेलीकॉप्टर छोड़ूंगा, क्योंकि गुड़मंडी में जनता से मुझे बात करनी थी।

मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री ने आगे कहा, मैं इस घटना का विरोध करता हूं ये लोकतंत्र विरोधी कदम है सरकारें आती और जाती हैं लेकिन सरकार को भी ये नहीं करना चाहिये और किसी अफसर को भी नहीं करना चाहिये। मैं इस पर विरोध दर्ज कराऊंगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here