सांसद के बैंक लूटने वाले बयान का शिवसेना ने किया समर्थन

0

एनसीपी सांसद उदयन राजे भोंसले के बैंक लूट वाले बयान का शिवसेना ने समर्थन किया है। शिवसेना के अपने मुखपत्र सामना के संपादकीय में लिखा कि सांसद उदयन राजे ने लोगों के गुस्से को जाहिर किया है और मोदी सरकार के समक्ष चुनौती पेश की है।

Shiv Sena

नोटबंदी के हालात से उत्पन माहौल और नकदी की किल्लत पर लोगों की चिंताओं को उजागर करते हुए पिछले दिनों एक कार्यक्रम में एनसीपी सांसद उदयन राजे भोंसले ने कहा था कि अगर नोटबंदी के कदम पर जल्दी कोई सुधार नहीं हुआ तो लोग ‘‘बैंकों को लूट लेंगे और उन्हें नष्ट कर देंगे’’।

Also Read:  मुंबई: स्थानीय निकाय चुनाव से पहले भाजपा और शिवसेना के बीच 'पोस्टर वार'

इस पर शिवसेना ने सोमवार को एनसीपी सांसद उदयनराजे भोसले की चेतावनी का समर्थन करते हुए अपने मुखपत्र ‘सामना’ के संपादकीय में लिखा, “नोटबंदी ने देश के लोगों में गुस्सा भर दिया है। देश के गरीब और मजदूर तबके के लोगों की स्थिति दयनीय है।” छत्रपति शिवाजी के 13वें वंशज उदयनराजे के बैंक लूटने वाले बयान का जिक्र करते हुए इसमें कहा गया कि उदयन राजे ने लोगों के गुस्से को जाहिर किया है और मोदी सरकार के समक्ष चुनौती पेश की है।

Also Read:  उपचुनाव से पहले BJP को बड़ा झटका, बवाना के पूर्व विधायक भाजपा छोड़ AAP में हुए शामिल

आगे शिवसेना ने लिखा, “किसानों की असामयिक मौत हो रही है। अगर वो बैंक लूटना भी चाहें तो उन्हें कुछ हाथ नहीं लगेगा क्योंकि सहकारी बैंक खुद पैसे की किल्लत से गुजर रहे हैं। इसके विपरीत, सरकार किसानों को इस हरकत के लिए फांसी पर लटका देगी और छुटकारा पा लेगी।

“भोसले ने लोगों के गुस्से को अपने रूप से बयां किया है। उन्होंने सवाल उठाए कि आम लोग लगातार क्यों सहते रहेंगे, जबकि कालेधन रखने वालों पर कोई कार्रवाई नहीं की जाएगी।” शिवसेना ने उदयनराजे भोसले को उनके बयान के लिए शाबासी भी दी और कहा कि NCP सांसद होते हुए ऐसा बयान देना उनकी स्वतंत्रत विचारों को दिखाता है।

Also Read:  "आईंदा इस तरह का तुगलकी फरमान सुनाने से पहले उसका देश की जनता पर पड़ने वाले प्रभावों का आकलन जरूर करा लीजिएगा"

आपको बता दे कि शिव सेना ने पहले भी नोटबंदी को लेकर सरकार की कड़ी आलोचना की थी और ममता बनर्जी द्वारा किए जा रहे विरोध पर अपना समर्थन भी दिया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here