लोकसभा चुनाव 2019: कांग्रेस ने शत्रुघ्न सिन्हा को पटना साहिब से बनाया उम्मीदवार, BJP के रविशंकर प्रसाद को देंगे चुनौती

1

कांग्रेस ने शनिवार (6 अप्रैल) को बिहार, हिमाचल प्रदेश और पंजाब में पांच लोकसभा सीटों के लिए उम्मीदवार घोषित किए जिनमें सबसे प्रमुख नाम शत्रुघ्न सिन्हा का है जिन्हें पटना साहिब से टिकट दिया गया है। सिन्हा शनिवार को ही कांग्रेस में शामिल हुए और इसके कुछ घंटे बाद ही उन्हें उम्मीदवार घोषित कर दिया गया। अब पटना साहिब से वह केंद्रीय मंत्री एवं भाजपा उम्मीदवार रविशंकर प्रसाद को चुनौती देंगे।

पिछली बार सिन्हा बीजेपी के टिकट पर पटना साहिब से चुनाव जीते थे। कांग्रेस ने हिमाचल प्रदेश की हमीरपुर सीट से रामलाल ठाकुर को टिकट दिया है जो बीजपी के अनुराग ठाकुर को चुनौती देंगे। इसके साथ ही पार्टी ने पंजाब में खादूर साहिब से जसबीर सिंह गिल, फतेहपुर साहिब से अमर सिंह और फरीदकोट से मोहम्मद सादिक को उम्मीदवार बनाया है। कांग्रेस अब तक कुल 377 उम्मीदवार घोषित कर चुकी है।

‘BJP में लोकतंत्र अब तानाशाही में बदल गया’

बीजेपी छोड़कर कांग्रेस में शामिल हुए शत्रुघ्न सिन्हा ने शनिवार को दावा किया कि बीजेपी में लोकतंत्र को तानाशाही बदल दिया गया जिसकी वजह से उन्हें इस पार्टी से अलग होना पड़ा। सिन्हा यह भी कहा कि वह उस कांग्रेस में शामिल हुए हैं जिसका देश की आजादी में सबसे बड़ा योगदान है। उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को ‘देश का भविष्य’ करार देते हुए कहा कि गांधी एक बहुआयामी और दूरदर्शी नेता के तौर पर सामने आए हैं।

कांग्रेस में शामिल होने के बाद सिन्हा ने संवाददाताओं से कहा, ‘बीजेपी में मेरी परवरिश हुई। धीरे धीरे मैं आगे बढ़ता गया। बाद में परिवर्तन शुरू हुआ, लेकिन वह परिवर्तन अच्छा नहीं था। धीरे धीरे भाजपा में लोकतंत्र तानाशाही में बदल गया।’ उन्होंने कहा कि बड़े महारथियों को मार्गदर्शकमण्डल में डाल दिया जिसकी कोई बैठक नहीं हुई। यशवंत सिन्हा, मुरली मनोहर जोशी, सुमित्रा महाजन और अरुण शौरी के साथ क्या किया गया, सबको पता है।

सिन्हा ने कहा कि आज तक उनके ऊपर किसी तरह आरोप खासकर भ्रष्टाचार का आरोप नहीं लगा। इसके बावजूद उनसे दूरी बनाई गई। नोटबंदी और जीएसटी को लेकर नरेंद्र मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा, ‘100 स्मार्ट सिटी का वादा किया लेकिन एक भी स्मार्ट नहीं दिखा सकते। मैंने देश हित की बात की थी। कभी राफेल या किसी दूसरे मामले में कमीशन नहीं मांगा। कोई डील नहीं की।’

 

उन्होंने दावा किया कि ‘वन मैन शो’ और ‘टू मैन आर्मी’ वालों के पैमाने पर जो खरा नहीं उतरा उसे किनारे लगा देते हैं। अब तो आडवाणी जी को भी ब्लॉग लिखना पड़ा। सिन्हा ने कहा, ‘पूरे सम्मान के साथ कहना चाहूंगा कि प्रचार पर हजारों करोड़ रुपये खर्च करने की जगह अगर विकास पर ध्यान दिया होता बहुत कुछ हो जाता।’ उन्होंने कहा, ‘ मैं राहुल जी से सहमत हूं कि नोटबंदी सबसे बड़ा घोटाला है।’ सिन्हा ने यह भी कहा कि उन्हें लालू प्रसाद का भी सहयोग मिला। मैं उनका आभारी हूं।

1 COMMENT

  1. Request to Patnasahib voters teach this CHOKIDAR Chor Sun Shankar Prasad a lession so that he forgets to sake his shoulder after each sentence.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here