शत्रुघ्न सिन्हा बोले- ‘यशवंत सिन्हा एक सच्चे नेता हैं, उन्होंने सरकार को आईना दिखाया है’

0

भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के वरिष्ठ नेता शत्रुघ्न सिन्हा गुरुवार(28 सितंबर) को अपने पार्टी सहयोगी पूर्व वित्त मंत्री यशवंत सिन्हा के समर्थन में सामने आए। उन्होंने कहा कि यशवंत सच्चे अर्थों में राजनेता हैं और उन्होंने सरकार को आईना दिखाया है। बता दें कि बिहार से सांसद शत्रुघ्न की अपनी पार्टी के रुख से कई मुद्दों पर अलग राय है।

(PTI File Photo)

पूर्व वित्त मंत्री यशवंत सिन्हा के विचारों को खारिज करने वाले बीजेपी नेताओं पर शत्रुघ्न ने निशाना साधते हुए कहा कि ऐसा करना ‘बचकाना’ होगा क्योंकि उनके (सिन्हा के) विचार पूरी तरह से पार्टी और राष्ट्र के हित में है। कई ट्वीट कर सरकार पर कटाक्ष करते हुए शत्रुघ्न ने यशवंत सिन्हा की टिप्पणियों को लेकर कही जा रही बातों के संदर्भ में दावा किया कि हम सब जानते हैं कि किस तरह की ताकतें उनके पीछे पड़ी हैं।

उन्होंने नरेंद्र मोदी का हवाला देते हुए कहा कि प्रधानमंत्री ने हाल ही में कहा था कि राष्ट्र किसी भी दल से बड़ा है और राष्ट्र हित सबसे पहले आता है। शत्रुघ्न ने ट्वीट किया, ‘‘मेरा दृढ़ता से यह मानना है कि सिन्हा ने जो कुछ भी लिखा है वह पार्टी और राष्ट्र के हित में है।’’

उन्होंने कहा, ‘‘वह सच्चे अर्थों में राजनेता हैं, जिसने खुद को साबित किया है और जो देश के सबसे सफल वित्त मंत्रियों में से एक हैं। उन्होंने भारत की आर्थिक स्थिति को लेकर आईना दिखाया है और समस्या की जड़ पर चोट की है।’’ यशवंत को बड़ा भाई बताते हुए शत्रुघ्न ने कहा कि इस तरह के विचारों के साथ सामने आने के लिए उनकी सराहना की जानी चाहिए।

ट्वीट में शत्रुघ्न ने अरूण शौरी की भी प्रशंसा की। अटल बिहारी वाजपेयी के मंत्रिमंडल में शौरी यशवंत के सहयोगी थे। बता दें कि शौरी भी मोदी सरकार की नीतियों के कड़े आलोचक हैं। शत्रुघ्न ने लिखा, ‘‘यशवंत सिन्हा और अरूण शौरी बहुत ही प्रबुद्ध और अनुभवी बुद्धिजीवी हैं।

उनकी कोई महत्वाकांक्षा नहीं है और ना ही किसी पद (मंत्री पद) की उन्हें लालसा है, खासकर ऐसे समय में जब अगले चुनाव में दो वर्ष से भी कम समय रह गया है।’’ उन्होंने कहा कि यशवंत के आलोचक उन्हें बिंदू दर बिंदू गलत साबित करके दिखाएं।

बता दें कि यशवंत सिन्हा ने बुधवार(27 सितंबर) को नोटबंदी और गिरती जीडीपी के मुद्दे पर सरकार और केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली को आड़े हाथों लिया था। अंग्रेजी अखबार ‘द इंडियन एक्‍सप्रेस’ में I need to speak up now (मुझे अब बोलना ही होगा) शीर्षक से लिखे लेख में वित्‍त मंत्री अरुण जेटली पर करारा हमला बोलते हुए कहा है कि वित्त मंत्री ने अर्थव्यवस्था का ‘कबाड़ा’ कर दिया है।

उन्होंने नोटबंदी को सुस्त अर्थव्यवस्था की आग में घी डालने वाला बताया है। साथ जीएसटी में भी खामियां बताईं है।सिन्हा ने कहा कि पीएम मोदी कहते हैं कि उन्होंने गरीबी को काफी नजदीक से देखा है, लेकिन ऐसा लगता है कि उनके वित्तमंत्री इस तरह का काम में लगे हैं कि वह सभी भारतीयों को गरीबी काफी करीब से दिखाएंगे।

सिन्हा ने कहा कि आज के समय में ना ही नौकरी मिल रही है और ना विकास तेज हो रहा है। इनवेस्टमेंट घट रही है और साथ में जीडीपी भी गिर रही है। उन्होंने कहा कि जीएसटी को ठीक तरीके से लागू नहीं किया गया, जिसके कारण नौकरी और व्यापार पर काफी फर्क पड़ा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here