बीजेपी सांसद शत्रुघ्न सिन्हा और पूर्व केन्द्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा ने द्रमुक नेताओं से की मुलाकात

0

पिछले काफी दिनों से केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार की किसान विरोधी नीतियों और आर्थिक फैसलों का खुलकर विरोध करने वाले पूर्व केन्द्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा और भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के असंतुष्ट सांसद शत्रुघ्न सिन्हा ने शुक्रवार ( चार मई) को चेन्नई में तमिलनाडु की मुख्य विपक्षी पार्टी द्रमुक के प्रमुख एम करूणानिधि और पार्टी के उपप्रमुख एम के स्टालिन से मुलाकात की।

बीजेपी

समाचार एजेंसी भाषा की रिपोर्ट के मुताबिक, बीजेपी को पराजित करने के लिए कांग्रेस के साथ हाथ मिलाये जाने संबंधी सवालों के जवाब में स्टालिन ने कहा ,‘हम सभी का लक्ष्य बीजेपी को सत्ता से बाहर करना है।’ स्टालिन ने बैठक के बाद कहा, हमने अपने लक्ष्य को हासिल करने के लिए एक गठबंधन बनाने के संबंध में चर्चा की।

द्रमुक के अनुसार यशवंत और सिन्हा ने स्टालिन के आवास पर उनसे मुलाकात कर राष्ट्रीय और तमिलनाडु के राजनीति परिदृश्य पर विचार विमर्श किया।

बता दें कि, इससे पहले 21 अप्रैल को यशवंत सिन्हा ने एक सार्वजनिक-तौर पर बीजेपी छोड़ने की घोषणा की थी। पार्टी छोड़ने का ऐलान करते हुए सिन्हा ने कहा था कि लोकतंत्र खतरे में है।

बता दें कि, अभी हाल ही में 30 जनवरी को यशवंत सिन्हा ने बीजेपी सांसद शत्रुघ्न सिन्हा, कांग्रेस, तृणमूल कांग्रेस, आम आदमी पार्टी के नेताओं, मध्यप्रदेश और महाराष्ट्र के कुछ किसान नेताओं के साथ मिलकर एक दल निरपेक्ष राजनीतिक प्लेटफॉर्म ‘राष्ट्र मंच’ की स्थापना की थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here