केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो पर शत्रुघ्न सिन्हा का पलटवार, कहा- मैं तब से राजनीति में हूं, जब वह पैदा भी नहीं हुआ था

0

मोदी सरकार में केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो ने भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के सांसद व अभिनेता से राजनेता बने शत्रुघ्न सिन्हा पर निशाना साधा था। राजस्थान उपचुनाव के नतीजों पर ली गई उनकी तीन तलाक वाली चुटकी पर बाबुल सुप्रियो ने जवाब दिया था।

फाइल फोटो

शत्रुघ्न सिन्हा पर पलटवार करते हुए केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो ने शनिवार(3 फरवरी) को कहा था कि, ‘शत्रुघ्न सिन्हा को बोलता हूं कि आपको इतनी नफरत है तो क्यों रोज आकर संसद में बैठेते हैं? क्यों ऐसे हालात पैदा करते हैं कि दूसरों को बोलना पड़े-खामोश, ड्रेसिंग रूम की बात वहीं रहनी चाहिए। आप तीन तलाक दीजिए और खुद छोड़ दीजिए बीजेपी।’ सुप्रियो के इस बयान पर अब शत्रुघ्न सिन्हा ने तीखी प्रतिक्रिया दी है।

जी न्यूज़ की ख़बर के मुताबिक, बीजेपी सांसद शत्रुघ्न सिन्हा ने बाबुल सुप्रियो के बयान पर पलटवार करते हुए कहा कि, ‘बाबुल अभी बच्चा है, नया जोश है वफादारी दिखाने का लेकिन उसकी चापलूसी का स्तर दुखद है।’ उन्होंने कहा, ‘मैं तब से राजनीति में हूं, जब वह पैदा भी नहीं हुआ था और मैं तब से फिल्म जगत का हिस्सा हूं, जब उसने इसके बारे में सोचा भी नहीं होगा। उसे यह सोचना चाहिए कि वह किसे खामोश कह रहा है और वह ऐसा क्यों कर रहा है।’

साथ ही सिन्हा ने कहा कि, ‘मैं सत्ताधारियों को खुश करने की उसकी ललक को समझ सकता हूं। आखिरकार उसे एक मंत्रालय का प्रभार दिया गया है, हालांकि जिसका कोई औचित्य नहीं है, और उसे वह दया याचिका के आधार पर दिया गया है। वह उन नए लोगों जैसा है, जिसने मेरी फिल्मों के सेट पर काम शुरू किया और अपनी उपस्थिति दर्ज कराने के लिए जब कैमरा रोल हुआ तो उसने संकेत दिए, हाथ दिखाए और ऊपर-नीचे कूदा।’

जी न्यूज़ की रिपोर्ट के मुताबिक साथ ही उन्होंने कहा कि, ‘सबसे पहले बाबुल को यह समझना चाहिए कि हास्य राजनीति का सबसे जरूरी हिस्सा है। देश में क्या हो रहा है, अगर इसको लेकर हम हंसेंगे नहीं तो हम रोते-रोते मर जाएंगे। सिन्हा ने कहा, ‘दूसरा, उसका ड्रेसिंग रूम की बातचीत से क्या मतलब है? क्या हम सभी नग्न होकर अपने कपड़े पहनाए जाने का इंतजार कर रहे होते हैं, वहीं महान बाबुल हमारे ड्रेसिंग रूम में हम सभी को डांट रहे होते हैं? और मत भूलिए, अगर आपका आपका मतलब ड्रेसिंग रूम की बात से है तो आप भी शोबिज के उसी ड्रेसिंग रूम में काम की तलाश में जाते रहे हैं।’

उन्होंने कहा, ‘इसलिए अगली बार मुझे खामोश बोलने से पहले सोचिए कि आप देश के सामने क्या कहेंगे, जब वह आपको कहेगा खामोश! लोग दुखी, आहत और विश्वासघात महसूस कर रहे हैं. चापलूसी की राजनीति नहीं चलेगी।’

बता दें कि, अभी हाल ही में राजस्‍थान की दो लोकसभा और एक विधानसभा सीटों पर हुए उपचुनावों में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) को तगड़ा झटका लगा है, सभी सीटों पर बीजेपी को मुंह की खानी पड़ी है। राज्य में कांग्रेस ने बीजेपी को करारी शिकस्त देते हुए तीनों सीटों पर कब्जा जमा लिया है। इसी पर बीजेपी सांसद शत्रुघ्न सिन्हा ने पार्टी पर तंज कसते हुए कहा था कि, राजस्थान बीजेपी को तीन तलाक देने वाला पहला राज्य बन गया है।

शत्रुघ्न सिन्हा ने ट्वीट कर लिखा था कि, ‘सारे रिकॉर्ड्स तोड़ने वाली सत्तारूढ़ पार्टी बीजेपी के लिए ब्रेकिंग न्यूज़- बीजेपी को तीन तलाक देने वाला पहला राज्य बन गया है राजस्थान। अजमेर- तलाक, अलवर- तलाक, मांडलगढ़- तलाक। हमारे विरोधियों ने अच्छे मार्जिन से इस चुनाव को जीता है, हमारी पार्टी को जोरदार झटका दिया है।’

साथ ही उन्होंने एक अन्य ट्वीट में लिखा था कि, ‘देर आए दुरुस्त आए, नहीं तो यह विनाशकारी नतीजे टाटा-बाए-बाए नतीजे भी हो सकते थे या हो जाएंगे। जाग जाओ बीजेपी, जय हिंद।’

बता दें कि, शत्रुघ्न सिन्हा कई मुद्दों पर पार्टी और पीएम मोदी की आलोचना करते रहें है। नवंबर में ही उन्होंने पीएम मोदी, केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली और सूचना एवं प्रसारण मंत्री स्मृति ईरानी पर निशाना साधा था।

माकपा महासचिव सीताराम येचुरी और जदयू के बागी नेता शरद यादव सहित विपक्ष के कई शीर्ष नेताओं के साथ मंच साझा करते हुए उन्होंने कहा था कि, ‘यदि एक वकील वित्त मंत्री बन सकता है, एक टीवी सेलेब्रिटी मानव संसाधन विकास मंत्री बन सकती है और एक चाय वाला प्रधानमंत्री बन सकता है… फिर मैं इन मुद्दों पर क्यों नहीं बोल सकता?’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here