जेल में स्पेशल किचन बनाने के लिए शशिकला ने अधिकारियों को दी 2 करोड़ की रिश्वत, मिल रही हैं VIP ट्रीटमेंट

0
>

भ्रष्टाचार की दोषी के तौर पर बंगलूरू की सेंट्रल जेल में बंद (एआईडीएमके) चीफ वीके शशिकला को जेल में स्पेशल ट्रीटमेंट दिया जा रहा है। साथ ही उनपर आरोप है कि उन्होंने जेल अधिकारियों को किचन बनवाने के लिए 2 करोड़ की रिश्वत दी है।

photo- News24‏

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, बेंगलुरु सेंट्रल जेल की वरिष्ठ अधिकारी डी रूपा की रिपोर्ट के अनुसार इसके लिए शशिकला ने जेल में अपने लिए दो करोड़ रुपये घूस देकर एक विशेष रसोईघर बनवाया है। रिपोर्ट से इस बात के संकेत मिलते हैं कि जेल प्रशासन को इस गैर-कानूनी हरकत की जानकारी थी लेकिन उसने इस पर कोई कार्रवाई नहीं की।

ख़बरों के मुताबिक, कहा यह भी जा रहा है कि इस जेल के डीजीपी एचएन राव भी इसमें शामिल हैं। डीजीपी पर काम में हस्तक्षेप करने का आरोप भी लगाया गया है।

एनडीटीवी की खबर के मुताबिक, 10 जुलाई को सेंट्रल जेल का निरीक्षण करने के बाद डीआईजी रूपा ने डीजीपी को पत्र लिख अधिकारियों पर सख्त कार्रवाही करने की मांग की। डीआईजी ने लिखा कि शशिकला को जेल नियमों का उल्लंघन करते हुए विशेष रसोई दी गई है।

10 अप्रैल की एक रिपोर्ट के मुताबिक, कर्नाटक के पुलिस महानिदेशक सत्यनारायण राव ने बताया था कि कर्नाटक प्रिसिजन मैनुएल के रूल 584 के तहत शशिकला को छूट दी गई थी कि वह 15 दिनों में 4 से 6 बाहरी लोगों से मुलाकात कर सकती है।

लेकिन एक आरटीआई के जरिए सामने आई जानकारी के बाद विवाद खड़ा हो गया। आरटीआई में खुलास हुआ कि शशिकला ने एक बार 14 दिनों में 28 लोगों से जेल में मुलाकात की थी। इसके बाद आरटीआई कार्यकर्ता नरसिम्हा मूर्ति ने आपत्ति जताते हुए इसे जेल मैनुएल का उल्‍लंघन बताया था।

नवभारत टाइम्स की ख़बर के मुताबिक, पुलिस महानिदेशक सत्यनाराण राव ने बताया, किसी कैदी को वीआईपी ट्रीटमेंट नहीं दिया जा रहा है। अगर डीआईजी को कोई सूचना मिली थी तो उन्हें मुझे जानकारी देनी चाहिए थी, मीडिया के पास नहीं जाना चाहिए था। मुझे अभी भी ऐसा कोई लेटर नहीं मिला है।

गौरतलब है कि, तमिलनाडु की राजनीति में जबरदस्त उठापटक करने वाली और मुख्यमंत्री बनने की हसरत रखने वाली वी. के. शशिकला बेंगलुरू की सेंट्रल जेल में बंद है। शशिकला को आय से अधिक सम्पत्ति मामले में चार साल की सजा सुनाई गई है। सुप्रीम कोर्ट ने शशिकला को 3 साल जेल में बिताने का आदेश दिया है, क्योंकि वह 6 महीने पहले ही जेल में बिता चुकी हैं।

Also Read:  एक समय बाल ठाकरे गुंडा था, अब वही गुंडागर्दी राज ठाकरे कर रहा है: मार्केंडेय काटजू

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here