कांग्रेस सांसद शशि थरूर द्वारा किए गए मानहानि के मुकदमे में अब अर्नब गोस्वामी से अदालत में होगी पूछताछ

0

इंग्लिश न्यूज़ चैनल ‘रिपब्लिक टीवी’ को लॉन्च करने वाले वरिष्ठ पत्रकार अर्नब गोस्वामी से दिल्ली उच्च न्यायालय में पूछताछ की जा सकती है, क्योंकि कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और केरल की तिरुअनंतपुरम सीट से लोकसभा सांसद शशि थरूर द्वारा दर्ज मानहानि मामले में इस साल मई से परीक्षाओं की जांच शुरु हो सकती है। सांसद के सुत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक उनका कहना है कि, वे इस मौके का बड़े से बेसर्बी से इंतजार कर कर रहें।

अर्नब गोस्वामी

अन्य सवालों के अलावा पत्रकार अर्नब गोस्वामी को इन सवालों का भी सामना करना पड़ सकता है:

. क्या गोस्वामी ने पत्रकारिता के मानदंडों और मानकों का पालन किया है और इन नियमों का उल्लंघन तो नहीं किया है?

. क्या गोस्वामी ने थरूर के खिलाफ अपुष्ट और एक तरफा समाचार रिपोर्ट प्रसारण कर रहे हैं या नहीं?

क्या गोस्वामी का ग़लत और असंतुष्ट समाचार रिपोर्ट के प्रसारण का इतिहास रहा है?

शशि थरूर के मानहानि मामले में वकीलों का प्रतिनिधित्व करने वाले गौरव गुप्ता ने ‘जनता का रिपोर्टर’ से बात करते हुए कहा कि, ‘थरूर और अर्नब गोस्वामी दोनों के सवाल-जवाब के पारस्परिक जांच 10 मई से शुरू होने की संभावना है। साथ ही उन्होंने कहा कि, सबसे पहले शशि थरूर और उनके मामले से संबंधित गवाह अपने बयान रखेंगे। उसके बाद अर्नब गोस्वामी का बयान रखा जाएंगा।

बता दें कि, शशि थरुर ने पिछले साल मई के महिने में दिल्ली उच्च न्यायालय में अर्नब गोस्वामी और रिपब्लिक टीवी के खिलाफ मानहानि का मुकदमा दायर किया था। थरूर ने अपनी पत्नी सुनंदा पुष्कर की मौत से जुड़ी खबर के प्रसारण के दौरान उनके खिलाफ कथित रूप से मानहानिकारक टिप्पणियों के लिए दो करोड़ रूपए के मुआवजे की याचिका में मांग की थी। तिरूवनंतपुरम से सांसद शशि थरूर ने उच्च न्यायालय से यह अनुरोध भी किया था कि जब तक दिल्ली पुलिस की जांच पूरी नहीं हो जाए चैनल पर उनकी पत्नी की मौत से संंबंधित किसी शो का प्रसारण नहीं हो।

बता दें कि, अभी कुछ दिनों पहले अर्नब गोस्वामी के चैनल रिपब्लिक टीवी के एक पत्रकार ने दावा किया था कि, अर्नब गोस्वामी ने शशि थरूर को परेशान करने का आदेश दिया था। जिसके बाद पत्रकार ने चैनल से इस्तीफा दे दिया था।गौरतलब है कि इससे पहले रिपब्लिक टीवी की एक अन्य महिला पत्रकार और वरिष्ठ संवाददाता श्वेता कोठारी ने संपादक द्वारा डराने, धमकी देने और उत्पीड़न करने का आरोप लगाकर अपने पद से इस्तीफा दे दिया था।

श्वेता ने ट्विटर पर एक पोस्ट लिख सार्वजनिक तौर पर बताया था कि कैसे उन पर शशि थरूर से मिलीभगत के आरोप में बेवजह शक किया जा रहा था।

बता दें कि, वरिष्ठ पत्रकार अर्नब गोस्वामी ने एनडीए के राज्यसभा सांसद राजीव चंद्रशेखर और बीजेपी समर्थक मोहनदास की मदद से बड़े ही धमाके के साथ 6 मई 2017 को अपने नए इंग्लिश चैनल ‘रिपब्लिक टीवी’ को लॉन्च किया था, जिसके बाद वह लगातार विवादों में हैं।

Pizza Hut

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here