ट्रैक्टर परेड हिंसा को लेकर दर्ज FIR के खिलाफ शशि थरूर और राजदीप सरदेसाई ने सुप्रीम कोर्ट का किया रुख

0

गणतंत्र दिवस पर किसानों की ‘ट्रैक्टर परेड’ के दौरान हुई हिंसा को लेकर कई ‘‘भ्रामक’’ ट्वीट करने के आरोप में अपने खिलाफ दर्ज प्राथमिकियों को लेकर कांग्रेस सांसद शशि थरूर और वरिष्ठ पत्रकार राजदीप सरदेसाई ने सुप्रीम कोर्ट का रुख किया है।

ट्रैक्टर परेड हिंसा
फाइल फोटो

पत्रकार मृणाल पांडे, जफर आगा, परेश नाथ और अनंत नाथ ने इन प्राथमिकियों के खिलाफ मंगलवार शाम को सुप्रीम कोर्ट का रुख किया था। दिल्ली पुलिस ने 30 जनवरी को शशि थरूर, राजदीप सरदेसाई, ‘कारवां’ पत्रिका और अन्य के खिलाफ मामला दर्ज किया था। इससे पहले थरूर और छह पत्रकारों पर नोएडा पुलिस ने दिल्ली में किसानों की ‘ट्रैक्टर परेड’ के दौरान हिंसा को लेकर तथा अन्य आरोपों के साथ राजद्रोह का मामला दर्ज किया था।

इसी तरह मध्य प्रदेश पुलिस ने भी दिल्ली में किसानों की ‘ट्रैक्टर परेड’ के दौरन हिंसा पर ‘‘भ्रामक’’ ट्वीट करने के आरोप में थरूर एवं छह पत्रकारों के खिलाफ मामला दर्ज किया है।

गौरतलब है कि, केन्द्र के तीन नए कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग के पक्ष में 26 जनवरी को हजारों की संख्या में किसानों ने ‘ट्रैक्टर परेड’ निकाली थी, लेकिन कुछ ही देर में दिल्ली की सड़कों पर अराजकता फैल गई। कई जगह प्रदर्शनकारियों ने पुलिस के अवरोधकों को तोड़ दिया और पुलिस के साथ भी उनकी झड़प हुई।

26 जनवरी को हुई इस हिंसा में दिल्ली पुलिस के 510 कर्मी घायल हुए थे और कुछ पुलिसवालों को गंभीर चोटें भी आई। दिल्ली के अलग-अलग हिस्सों में हुई हिंसा की जांच क्राइम ब्रांच कर रही है। (इंपुट: भाषा के साथ)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here