महाराष्ट्र में BJP के साथ सरकार बनाने का अजित पवार का व्यक्तिगत फैसला है: शरद पवार

0

राकांपा अध्यक्ष शरद पवार ने कहा कि महाराष्ट्र में भाजपा को समर्थन देना अजित पवार का निजी फैसला है, न कि राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी का। महाराष्ट्र में नाटकीय घटनाक्रम के तहत देवेंद्र फड़णवीस के मुख्यमंत्री और अजित पवार के उपमुख्यमंत्री के तौर पर शपथ लेने पर राकांपा अध्यक्ष शरद पवार ने कहा कि यह अजित पवार का निजी फैसला है, न कि राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी का।

शरद पवार
फाइल फोटो: शरद पवार

शरद पवार ने ट्वीट कर कहा, “अजित पवार का भाजपा को सरकार बनाने के लिए समर्थन देने का फैसला उनका निजी फैसला है, नैशनलिस्‍ट कांग्रेस पार्टी (राकांपा) का इससे कोई संबंध नहीं है। हम आधिकारिक रूप से यह कहना चाहते हैं कि हम उनके (अजित पवार) इस फैसले का न तो समर्थन करते हैं और न ही सहमति देते हैं।”

उधर, शिवसेना ने भी कहा कि अजित पवार ने शरद पवार को धोखा दिया है। शिवसेना प्रवक्‍ता संजय राउत ने कहा कि जेल जाने से बचने के लिए अजित पवार भाजपा के साथ आए हैं। इस बीच, कांग्रेस ने शरद पवार पर धोखा देने का आरोप लगाया है।

शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा कि अजित पवार ने शरद पवार को धोखा दिया। उन्होंने कहा कि अजित पवार कल शाम तक बैठक में मौजूद थे फिर अचानक ऐसा क्या हुआ कि भाजपा के साथ चले गए। संजय राउत ने कहा कि अजित पवार और उनके साथ गए विधायकों ने महाराष्ट्र और शिवाजी महाराज को बदनाम किया है। अजित पवार ने महाराष्ट्र को धोखा दिया है।

संजय राउत ने आगे कहा कि अजित पवार वकील से मिलने के बहाने बाहर गए थे। सत्ता और पैसे के दम पर पूरा खेला हुआ है। अजित पवार नजर नहीं मिला पा रहे थे। अंधेरे में अजित पवार ने डाका डाला है। अजित पवार और उनके साथियों ने छत्रपति शिवाजी का नाम बदनाम किया है। आज सुबह दो बार उद्धव ठाकरे से शरद पवार की बात हुई थी।

बता दें कि, महाराष्ट्र में रातोंरात बड़ा उलटफेर हो गया। शुक्रवार शाम तक कांग्रेस और शिवसेना के साथ सरकार गठन का दावा करने वाली शरद पवार की पार्टी एनसीपी ने भाजपा से गठबंधन कर लिया। कई दिनों से जारी सियासी घमासान के बीच शनिवार सुबह भाजपा ने एनसीपी के साथ मिलकर राज्य में सरकार बना ली। सुबह करीब 8 बजे देवेंद्र फडणवीस ने दोबारा महाराष्ट्र के सीएम पद की शपथ ली। तो वहीं, एनसीपी नेता अजित पवार ने डिप्टी सीएम पद की शपथ ली है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here