VIDEO: मीडिया ब्रीफिंग के दौरान पत्रकार पर भड़के एनसीपी चीफ शरद पवार, माफी मांगने को कहा

0

राष्‍ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) अध्यक्ष शरद पवार शुक्रवार को उस वक्त नाराज हो गये जब एक पत्रकार ने उनसे इन खबरों के बारे में पूछ लिया कि उनके रिश्तेदार एवं महाराष्ट्र के पूर्व मंत्री पदम सिंह पाटिल पार्टी छोड़कर भाजपा में शामिल होने वाले हैं। पार्टी छोड़ने वाले राकांपा नेताओं के लिए ‘रिश्तेदार’ शब्द का इस्तेमाल किये जाने से पवार नाराज हो गये और उन्होंने पत्रकार से माफी मांगने तथा मीडिया ब्रीफिंग से चले जाने को कहा।

शरद पवार
फाइल फोटो

श्रीरामपुर में आयोजित संवाददाता सम्मेलन में पवार के सामने उनकी पार्टी के कुछ नेताओं के देर-सवेर भाजपा या शिवसेना में शामिल होने का सवाल आया। ये नेता ‘विकास’ के नाम पर भाजपा में शामिल हो रहे हैं। इस संबंध में एक सवाल का जवाब देते हुए पूर्व केंद्रीय मंत्री ने कहा, ‘‘10-15 साल से उनका विकास केवल इसी पार्टी में हुआ था। अब शायद वे और विकास चाहते हैं तथा भाजपा और शिवसेना ने उन्हें यह हासिल करने का कोई रास्ता बता दिया होगा।’’

पवार ने कहा, ‘‘हालांकि मुझे इस बारे में जानकारी नहीं है कि यह किस तरह का विकास है।’’ तब एक पत्रकार ने उनसे पूछा कि ‘‘न केवल नेता, बल्कि उनके रिश्तेदार भी’’ 20 साल पुरानी पार्टी छोड़ रहे हैं। पत्रकार ने उस्मानाबाद के राकांपा नेता पदम सिंह पाटिल का नाम लिया। पाटिल, पवार के भतीजे अजीत पवार के साले हैं। ऐसा लगा कि ‘रिश्तेदार’ शब्द सुनना पवार को रास नहीं आया और इसके बाद भी संवाददाता के इस सवाल पर अड़े रहने पर राकांपा नेता को गुस्सा आ गया।

पवार ने कहा, ‘‘यहां रिश्तेदार का सवाल कहां से आया? आप जो कह रहे हैं, वह गलत है। राजनीति में रिश्तेदारों का सवाल कहां से आया?’’ जब पत्रकार ने अपना सवाल विस्तार से समझाने की कोशिश की तो पूर्व केंद्रीय मंत्री उठकर जाने लगे और कहा कि वह और बात नहीं करना चाहते। उन्होंने पत्रकार से माफी मांगने को कहा। पवार ने कहा कि जो लोग शिष्टता का पालन नहीं करते, उन्हें संवाददाता सम्मेलन में नहीं बुलाया जाना चाहिए।

एनसीपी नेता ने कहा, ‘‘या तो उन्हें (पत्रकार को) बुलाइए या मुझे बुलाइए।’’ 79 वर्षीय पवार ने आगे सवालों का जवाब देने से मना कर दिया और हाथ जोड़कर पत्रकार से ब्रीफिंग से चले जाने को कहा। दूसरे पत्रकारों के बहुत मनाने पर पवार पत्रकार वार्ता जारी रखने को तैयार हुए और उन्होंने प्रदेश की राजनीति पर पूछे गये सवालों के जवाब दिये। बता दें कि, महाराष्ट्र विधानसभा के चुनाव इसी साल के अंत में होने वाले हैं।

देखिए वीडियो

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here