दिल्लीः शाहीन बाग के प्रदर्शनकारियों का आरोप, धरना स्थल के पास फेंका गया पेट्रोल बम

0

देश भर में जारी ‘जनता कर्फ्यू’ के बीच राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के शाहीन बाग इलाके से एक बड़ी खबर सामने आ रही है। यहां नागरिकता संशोधन कानून (CAA) और राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (NRC) के खिलाफ तीन महीने से भी ज्‍यादा समय से धरना-प्रदर्शन कर रहे प्रदर्शनकारियों ने प्रदर्शन स्थल पर पेट्रोल बम फेंकने का आरोप लगाया है।

शाहीन बाग

प्रदर्शनकारियों का कहना है कि, धरना स्‍थल के समीप पेट्रोल बम फेंका गया है। सामने आई तस्वीरों और वीडियो में साफ दिख रहा है कि धरना स्थल के पास सड़क पर आग लगी हुई है। आग को कुछ लोग बुझाते हुए दिखाई दे रहे हैं। जानकारी के मुताबिक, आग को बुझा दिया गया है। इस घटना को अंजाम देने वालों के बारे में कोई जानकारी नहीं मिल सकी है।

बता दें कि, कोरोना वायरस से लड़ाई लड़ने के लिए ‘जनता कर्फ्यू’ का असर पूरे भारत में देखा जा रहा है। हालांकि, दिल्ली के शाहीन बाग में नागरिकता संशोधन सीएए (सीएए) और एनआरसी के खिलाफ महिलाएं धरने पर बैठी हुई हैं।

गौरतलब है कि, पिछले 15 दिसंबर से नागरिकता संशोधन अधिनियम (CAA) और नेशनल रजिस्टर ऑफ सिटीजन्स (NRC) के खिलाफ शाहीन बाग में विरोध प्रदर्शन किया जा रहा है। शाहीन बाग में CAA और NRC के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे लोगों को अन्य जगह से लगातार समर्थन मिल रहा है। इस प्रदर्शन के चलते नोएडा को दिल्ली से जोड़ने वाली राह कालिंदी कुंज बंद पड़ा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here