कोई कलाकार अपने देश के ख़िलाफ नहीं सुन सकता, यही वजह है कि पाकिस्तानी कलाकार चुप हैं: शफक्कत अमानत अली

0

उड़ी हमले के बाद लगातार आ रहे बयानों के बाद शफक्कत अमानत अली ने अपनी राय रखते हुए कहा कि दुनिया के सभी कालाकार हमेशा से ही आतंकवाद के विरुद्ध हैं। भारत के बहुत से लोगों को लगता है कि पाकिस्तान के कलाकारों को उड़ी हमले की निंदा करनी चाहिए।

जनसत्ता की खबर के अनुसार, शफक्कत अमानत अली ने कहा “कोई भी कलाकार अपने देश के विरुद्ध कुछ नहीं सुन सकता इसी वजह से सभी कलाकार चुप हैं। हालांकि उड़ी और कहीं भी हुए आतंकी हमलों की वो निंदा करते हैं। भारत, पाकिस्तान और हर जगह के कलाकार आतंकवाद के विरुद्ध हैं। उन्हें इस हमले के बाद अपराधी महसूस करवाया जा रहा है इसी वजह से उन्होंने चुप रहने का फैसला किया है।”

उड़ी आतंकी हमले की निंदा करने वाले शफक्कत अमानत अली ऐसा करने वाले पहले पाकिस्तानी कलाकार हैं।

बता दें कि भारत और पाकिस्तान में तनाव के चलते पिछले सप्ताह बेंगलुरु में होने वाले शफक्कत अली के कंसर्ट को रद्द कर दिया गया था। उड़ी हमले के बाद भारत में पाकिस्तानी कलाकारों को काम नहीं करने देने के मामले पर बहस लगातार जारी है। हमले के बाद किसी भी पाकिस्तानी कलाकार ने उड़ी हमले की निंदा नहीं की थी।

LEAVE A REPLY