उत्तर प्रदेश में बेटियां सुरक्षित नहीं! फतेहपुर में सात साल की बच्ची से बलात्कार, आरोपी गिरफ्तार

0

हाथरस गैंगरेप केस का मामला अभी शांत भी नहीं हुआ कि अब उत्तर प्रदेश के फतेहपुर जिले में ललौली थानाक्षेत्र के एक गांव में मंगलवार शाम सात साल की बच्ची के साथ कथित बलात्कार की घटना सामने आई है। पुलिस ने इस मामले में कार्रवाई करते हुए आरोपी युवक को गिरफ्तार कर लिया है।

उत्तर प्रदेश

समाचार एजेंसी पीटीआई (भाषा) की रिपोर्ट के मुताबिक, ललौली थाना के प्रभारी निरीक्षक (एसएचओ) संदीप तिवारी ने बुधवार को बताया कि “मंगलवार की शाम चार-पांच बजे के करीब एक सात साल की बच्ची अपने घर से कुछ दूरी पर गांव के किनारे अकेले खेल रही थी, तभी पड़ोसी गांव करैहा के मजरे कल्लू भगत का डेरा निवासी युवक अनिल निषाद (20) साइकिल से वहां आया। वह बच्ची को बहला-फुसलाकर सुनसान जगह ले गया और उसके साथ बलात्कार किया।”

उन्होंने बताया कि, “बच्ची के रोने की आवाज सुनकर खेतों में काम कर रहे ग्रामीण घटनास्थल पहुंचे और भाग रहे आरोपी युवक को पकड़ कर पुलिस को सौंप दिया। आरोपी को जेल भेजा जा रहा है।” एसएचओ तिवारी ने बताया कि, “पीड़ित बच्ची को इलाज के लिए रात में ही जिला अस्पताल में भर्ती करवाया गया है, जहां उसकी हालत में सुधार हो रहा है।”

बता दें कि, यूपी के हाथरस में दलित युवती के साथ निर्भया जैसी हैवानियत पर सियासत गरमा गई है। सोशल मीडिया पर लोगों का आक्रोश झलक रहा है। दिल्ली के जिस सफदरजंग अस्पताल में पीड़िता ने आखिरी सांस ली, उसके बाहर प्रदर्शन हुआ, कैंडल मार्च निकला। यूपी में राष्ट्रपति शासन लगाने की मांग हो रही है। कांग्रेस ने इस पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ‘खामोशी’ पर सवाल उठाया है।

गौरतलब है कि, उत्तर प्रदेश की योगी सरकार भले ही महिलाओं की सुरक्षा को लेकर लाख दावे कर रही हो, लेकिन हकीकत इससे काफी दूर है। राज्य से रोज मासूम बच्चियों और महिलाएं से रेप व छेड़छाड़ की कोई न कोई घटनाएं सामने आती ही रहती है, जो चीख-चीखकर बता रही हैं कि यूपी में महिलाएं कहीं भी सुरक्षित नहीं है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here