पीयूष गोयल ने किया था रेलवे के लिए सबसे सुरक्षित साल का दावा, और 2 दिन के अंदर ही हो गया इतना बड़ा ट्रेन हादसा

0

बिहार में रविवार (3 फरवरी) तड़के बड़ा रेल हादसा हो गया है। बिहार के वैशाली जिले में पूर्व-मध्य रेलवे (ईसीआर) के सोनपुर मंडल के सहदेई बुजुर्ग रेलवे स्टेशन के निकट तड़के तीन बजकर 58 मिनट पर जोगबनी से नई दिल्ली के आनंदविहार टर्मिनल जा रही सीमांचल एक्सप्रेस के 11 डिब्बों के पटरी से उतरने से जहां सात लोगों की मौत हो गई वहीं 29 अन्य घायल हो गए, जिनमें से दो की स्थिति गंभीर है।

Picture Credit: ANI

बता दें कि यह हादसा ऐसे वक्त हुआ है जब 2 दिन पहले ही वित्त मंत्री और रेल मंत्री पीयूष गोयल ने अंतरिम बजट के दौरान सदन में रेलवे की उपलब्धि गिनाते हुए कहा था कि पिछला साल रेलवे के लिए भारतीय इतिहास का सबसे सुरक्षित साल रहा है। पीयूष गोयल के इस बयान के बाद दो दिनों बाद ही ये हादसा हुआ है। संसद में अंतरिम बजट प्रस्तुत करते हुए गोयल ने कहा था, ‘भारतीय रेलवे के इतिहास में अब का सबसे सुरक्षित साल रहा है।’

बिहार के वैशाली जिले के सहदेई बुजुर्ग रेलवे स्टेशन के समीप रविवार तड़के करीब चार बजे 12487 जोगबनी-आनंद विहार टर्मिनल सीमांचल एक्सप्रेस ट्रेन के 11 डिब्बों के पटरी से उतर जाने से सात लोगों की मौत हो गई जबकि 24 अन्य घायल हो गए। पूर्व मध्य रेल के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी राजेश कुमार ने बताया कि पहली नजर में दुर्घटना का मुख्य कारण रेल पटरी में दरार लग रहा है। इसकी जांच सीआरएस (पूर्वी क्षेत्र) लतीफ खान करेंगे।

पीएम मोदी, राहुल गांधी और नीतीश कुमार ने जताया दुख

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, केंद्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल, रेल राज्य मंत्री मनोज सिन्हा और बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने भी इस रेल हादसे पर दुख प्रकट किया है। पीएम मोदी ने ट्वीट कर दुख जताते हुए कहा, ‘सीमांचल एक्सप्रेस के बोगियों के बेपटरी होने के कारण कई लोगों की जान चली गई। मैं सभी शोकाकुल परिवार के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त करता हूं। कामना करता हूं कि हादसे में घायल यात्री जल्द से जल्द स्वस्थ हों।’ साथ ही पीएम मोदी ने कहा कि रेलवे, एनडीआरएफ और स्थानीय स्तर पर हरसंभव मदद दी जा रही है।

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने बिहार में हुए ट्रेन हादसे पर रविवार को गहरा दुख व्यक्त किया साथ ही पार्टी कार्यकर्ताओं से पीड़ित परिवारों को हर प्रकार की सहायता मुहैया कराने की अपील की। गांधी ने अपने ट्वीटर पोस्ट में लिखा, ‘‘मैं बिहार में हुई ट्रेन दुर्घटना से बेहद दुखी हूं। मैं इस दुर्घटना से पीड़ित परिवारों के प्रति गहरा दुख व्यक्त करता हूं और मेरी सवेदनाएं उनके साथ हैं।’’ उन्होंने पार्टी के स्थानीय कार्यकर्ताओं से पीड़ित परिवारों को हर संभव मदद मुहैया कराने की भी अपील की।

वहीं, मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने हादसे में मरने वाले के परिजनों के प्रति गहरी संवेदना व्यक्त की है और दुख की इस घड़ी में शोक संतप्त परिवार को धर्य धारण करने की शक्ति प्रदान करने की इश्वर से प्रार्थना की है। कुमार के निर्देश पर वैशाली के जिलाधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक घटना स्थल पर मौजूद हैं। पुलिस-प्रशासन रेलवे के साथ राहत एवं बचाव कार्य में सहयोग कर रहा है। मुख्यमंत्री ने दुर्घटना में घायल हुए लोगों के शीघ्र स्वस्थ्य होने की भी ईश्वर से कामना की है।

हादसे में 24 लोग घायल

पुलिस अधीक्षक मानवजीत सिंह ढिल्लों ने बताया कि हादसे में 24 लोग घायल हुए हैं। राजकीय रेल पुलिस (आरपीएफ) अधीक्षक (मुजफ्फरपुर) संजय कुमार सिंह ने बताया कि हादसे में सात लोगों की मौत हुई है। राजेश कुमार ने बताया कि सोनपुर रेल मंडल अंतर्गत बरौनी- बछवारा-हाजीपुर सिंगल रेल लाइन से मेहनार रोड स्टेशन से रविवार तड़के प्रात: तीन बजकर बावन मिनट पर गुजरने के बाद जोगबनी-आनंद विहार टर्मिनल सीमांचल एक्सप्रेस ट्रेन के 11 डिब्बे सहदेई बुजुर्ग रेलवे स्टेशन के समीप तीन बजकर अट्ठावन मिनट पर पटरी से उतर गए।

उन्होंने बताया कि सभी घायल यात्रियों को इलाज के लिए पास के अस्पताल, जिला अस्पताल और रेलवे अस्पताल ले जाया गया है। दुर्घटना स्थल पर डॉक्टर पर्याप्त संख्या में मौजूद हैं। एंबुलेंस सेवा भी उपलब्ध है। राजेश ने बताया कि राहत और बचाव कार्य चल रहा है। रेलवे प्रशासन और राज्य प्रशासन के अलावा एसडीआरएफ और एनडीआरएफ भी राहत और बचाव कार्यों में रेलवे की सहायता कर रहा है।

हेल्पलाइन नंबर जारी

उन्होंने कहा कि रेलवे ने सभी यात्रियों के लिए दुर्घटनास्थल पर भोजन और पीने के पानी की पर्याप्त व्यवस्था की है। हाजीपुर और पटना में भी भोजन, पेयजल आदि की व्यवस्था है। उन्होंने बताया कि इस हादसे को लेकर तीन हेल्पलाइन नंबर: सोनपुर 06158221645, हाजीपुर 06224272230, बरौनी 06279232222 और पटना में 06122202290, 06122202291, 06122202292 एवं 06122213234: जारी किए गए हैं।

मुआवजे का ऐलान

रेलवे मरने वालों के परिवार को रेलवे पांच लाख रुपये की सहायता राशि देगा। इसके अलावा गंभीर रूप से घायलों को एक-एक लाख रुपये और मामूली घायलों को 50,000 की मदद दी जाएगी। रेलवे इलाज का खर्च वहन करेगा। रेल मंत्री पीयूष गोयल ने रेल दुर्घटना में मारे गए लोगों के परिजन को पांच लाख रुपये, गंभीर रूप से घायलों में प्रत्येक को एक-एक लाख रुपये का मुआवजा देने की घोषणा की।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here