2000 के नोट पर सुप्रीम कोर्ट में वकील ने कहा- भिगोने पर क्यों रंग छोड़ता है नोट ? SC से मिली ये सलाह

0

2000 के नोटों को पानी से धोने वाले कई सारे वीडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रही हैं। इन वीडियो के जरिए नोटों के असली या नकली होने या फिर उनकी क्वॉलिटी बताने की कोशिश की जा रही है।

सुप्रीम कोर्ट में एक वकील ने कहा कि 2000 रुपए के नोटों को जब भिगोया जाता है तो रंग क्यों छोड़ते हैं। इस पर सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस टीएस ठाकुर ने वकील का सलाह दी, ‘ठीक है, नोटों को पानी में मत डालो।

Also Read:  दिल्ली गैंगरेप के नाबालिग दोषी की रिहाई पर रोक से सुप्रीम कोर्ट का इनकार

सुप्रीम कोर्ट

चीफ जस्टिस टीएस ठाकुर ने कहा कि आप करेंसी नोट को पानी में क्यों डालते हो नोट को पानी में डालने का क्या मतलब है।

जनसत्ता की खबर के अनुसार, चीफ जस्टिस ने यह टिप्पणी वकील ML शर्मा की याचिका पर की वकील एमएल शर्मा ने सुप्रीम कोर्ट में दाखिल याचिका में कहा कि बाजार में 2000 के 50 फीसदी नोट नकली आ गए हैं। पानी में डालने पर रंग छोड रहे हैं। ऐसे में 500/1000 के नोट बंद करने के फैसले पर रोक लगाई जाए।

Also Read:  राष्ट्रगान पर सुप्रीम कोर्ट के आदेश का औवेसी ने किया स्वागत, पूछा- क्या इससे देशभक्ति बढ़ाने में मदद मिलेगी ?

सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले की जल्द सुनवाई से फिलहाल इनकार किया और कहा कि मामले की सुनवाई 25 नवंबर को ही करेंगे।

 

बता दें, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 500 और 1000 रुपए के पुराने नोटों को बंदे करने का ऐलान आठ नवंबर को किया था। इसके बाद भारतीय रिजर्व बैंक ने 2000 रुपए क नोट जारी किया था। साथ ही 500 रुपए का भी नया नोट अलग रंग और डिजाइन के साथ जारी किया गया था। साथ ही आरबीआई ने कहा था कि 1000 रुपए का नोट भी जल्द ही नए रंग और डिजाइन के साथ जारी किया जाएगा।

Also Read:  कैटरीना कैफ ने रणबीर के ब्रेकअप बयान पर क्यों दिया ऐसा रिएक्शन ?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here