सऊदी ने 39,000 पाक नागरिकों को देश से बाहर निकाला, पढ़िए क्यों

0
4

नई दिल्ली। विश्व समुदाय के बीच पाकिस्तान अलग-थलग पड़ता जा रहा है। जो देश कभी पाक का हमदर्द हुआ करता था आज वह भी उसे शक के नजरिए से देख रहा है। दरअसल, एक रिपोर्ट के मुताबिक, पिछले चार महीनों में करीब 39,000 पाकिस्तानी नागरिकों को सऊदी अरब से वापस उनके देश भेज दिया है। इस फैसले के पीछे वीजा नियमों के उल्लंघन को कारण बताया जा रहा है।

सऊदी के अधिकारियों द्वारा वहां मौजूद सभी पाक नागरिकों की ‘अच्छी तरह से जांच किए जाने’ का भी निर्देश जारी किया गया है। अधिकारियों को आशंका है कि सऊदी में रहने वाले कुछ पाक नागरिकों का दुनिया के सबसे खुंखार आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट (आईएस) के साथ संबंध हो सकते हैं या फिर हो सकता है कि वे इस आतंकी संगठन से साहनुभूति रखते हों।

सूत्रों ने बताया कि बहुत से पाक नागरिक नशीले पदार्थों की तस्करी, चोरी, जालसाजी और हिंसा के अपराधों में गिरफ्तार किए जा चुके हैं। इसके मद्देनजर शूरा काउंसिल की सुरक्षा समिति के अध्यक्ष अब्दुल्ला अल—सदाउन ने सऊदी अरब में काम के लिए नियुक्ति से पहले पाकिस्तानियों की गहन जांच का आह्वान किया है।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, इसी आधार पर पिछले चार महीनों में आवास और काम से जुड़े वीजा नियमों के उल्लंघन को कारण बताकर करीब 39,000 पाकिस्तानियों को वापस उनके देश भेजा गया है। यह रिपोर्ट सुरक्षा अधिकारियों से मिली जानकारियों के आधार पर तैयार की गई है।

अधिकारियों को मुताबिक, करीब 82 पाक नागरिक आतंकवाद और सुरक्षा संबंधी मामलों में संदिग्ध हैं। उन्हें फिलहाल खुफिया विभाग की जेलों में बंद किया गया है। साथ ही हाल ही में अल-हराजात और अल-नसीम जिलों में हुए आतंकी घटनाओं के सिलसिले में करीब 15 पाक नागरिकों को अरेस्ट किया गया है।

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here