वीडियो: AAP नेता संजय सिंह ने ली राज्यसभा सदस्यता की शपथ, देखिए पीछे बैठे PM मोदी और अमित शाह का क्या था रिएक्शन

0

केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी और आम आदमी पार्टी (AAP) के नेता संजय सिंह सहित चार सदस्यों ने बजट सत्र के पहले दिन सोमवार (29 जनवरी) को राज्यसभा की सदस्यता की शपथ ली। उच्च सदन की बैठक शुरू होने पर हरदीप सिंह पुरी, संजय सिंह, नारायण दास गुप्ता (एनडी गुप्ता) और सुशील कुमार गुप्ता ने शपथ ली। हरदीप पुरी, संजय सिंह और सुशील कुमार गुप्ता ने हिंदी में शपथ ली, वहीं नारायण दास गुप्ता ने अंग्रेजी में शपथ ली।नवनिर्वाचित सदस्यों को सभापति एम वेंकैया नायडू ने बधाई दी वहीं अन्य सदस्यों ने मेजें थपथपाकर उनका स्वागत किया। आपको बता दें कि शहरी एवं आवास मंत्री हरदीप पुरी उत्तर प्रदेश से भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के टिकट पर निर्वाचित हुए हैं, जबकि शेष तीनों सदस्य राजधानी दिल्ली से आम आदमी पार्टी के टिकट पर निर्वाचित हुए हैं।

इस बीच सोशल मीडिया पर आप नेता संजय सिंह द्वारा ली जा रही शपथ का वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है। दरअसल, संजय सिंह जब राज्यसभा की सदस्यता की शपथ ले रहे थे, उस वक्त उनके पीछे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह भी सदन में मौजूद थे। इस वीडियो में संजय सिंह के शपथ लेते समय पीएम मोदी और अमित शाह के हाव-भाव देखने लायक है।

वीडियो में साफ तौर पर देखा जा सकता है कि पीएम मोदी बहुत ही शांत रहकर संजय सिंह द्वारा ली जा रही शपथ को सुन रहे थे, वहीं दूसरी ओर अमित शाह संजय सिंह को नजरअंदाज कर कुछ खाने में व्यस्त थे। वीडियो में अमित शाह को देखकर ऐसा लग रहा है कि मानों जैसे इस संजय सिंह की शपथ को सुनने की उनकी कोई दिलचस्पी नहीं थी।पत्रकार समीर अब्बास ने अपने ट्विटर हैंडल पर यह वीडियो ट्वीट कर संजय सिंह बधाई दी है।

आप सांसदों ने राष्ट्रपति के अभिभाषण का किया बहिष्कार 

न्यूज एजेंसी IANS के मुताबिक, आम आदमी पार्टी कें सांसदों ने बजट सत्र के पहले दिन सोमवार को पार्टी के 20 विधायकों को अयोग्य करार दिए जाने के विरोध में संसद के संयुक्त सत्र में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के अभिभाषण का बहिष्कार किया। आप के लोकसभा सदस्यों साधु सिंह, भगवंत मान व राज्यसभा सदस्य संजय सिंह, सुशील गुप्ता व एन.डी.गुप्ता ने हाथों में तख्तियां लेकर संसद परिसर में गांधी प्रतिमा के पास नारे लगाए।

आप सांसद दिल्ली में सीलिंग मुहिम के खिलाफ, केंद्र सरकार के सिंगल ब्रांड खुदरा बाजार में एफडीआई की अनुमति व निर्वाचन आयोग द्वारा 20 आप विधायकों को अयोग्य करार दिए जाने के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे थे। आप के सांसद नारे लगा रहे थे, “लोकतंत्र में तानाशाही नहीं चलेगी।” विधायकों को अयोग्य करार दिए जाने का जिक्र करते हुए संजय सिंह ने संवाददाताओं से कहा कि, “देश में दो नियम नहीं हो सकते।”

आप नेता ने कहा कि दूसरे राज्यों में उच्च न्यायालय ने संसदीय सचिवों की नियुक्ति को रद्द कर दिया, लेकिन विधायकों की सदस्यता नहीं रद्द की गई। बता दें कि इस महीने की शुरुआत में निर्वाचन आयोग ने आप के 20 विधायकों को अयोग्य ठहराने की सिफारिश की थी, जिसे राष्ट्रपति ने मंजूरी दे दी। इन विधायकों पर दिल्ली में संसदीय सचिव के रूप में लाभ का पद धारण करने का आरोप था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here