महाराष्ट्र में सियासी हलचल के बीच संजय राउत बोले- उद्धव ठाकरे और मोहन भागवत के बीच नहीं हुई कोई बातचीत, शिवसेना से ही होगा CM

0

महाराष्ट्र में सरकार गठन को लेकर चल रही खींचतान के बीच शिवसेना के वरिष्ठ नेता संजय राउत ने गुरुवार को एक बार फिर से कहा है कि महाराष्ट्र का मुख्यमंत्री तो शिवसेना से ही होगा। साथ ही संजय राउत ने कहा कि महाराष्ट्र में सरकार गठन को लेकर आरएसएस के सरसंघचालक मोहन भागवत और शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे के बीच अब तक कोई बातचीत नहीं हुई है।

संजय राउत
फोटो: ANI (शिवसेना के वरिष्ठ नेता संजय राउत)

संजय राउत ने ठाकरे की शिवसेना विधायकों के साथ बैठक से पूर्व संवाददाताओं से कहा कि उनकी पार्टी और विपक्षी कांग्रेस एवं राकांपा के विधायक ‘पाला नहीं बदलेंगे’। राज्यसभा सदस्य राउत ने कहा, ‘भागवत और ठाकरे के बीच अभी तक कोई बातचीत नहीं हुई है।’ यह पूछे जाने पर कि राज्य में सरकार गठन को लेकर बने गतिरोध के बीच क्या उनके विचार पार्टी के विचारों का प्रतिनिधित्व करते हैं, उन्होंने कहा, ‘मैंने शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे के विचारों को सामने रखा।’

संजय राउत ने उस रिपोर्ट पर भी कहा जिसमें कहा गया था कि शिवसेना अपने विधायकों को रिजॉर्ट में शिफ्ट करने जा रही है। इसपर संजय राउत ने कहा कि हमें ऐसा करने की कोई जरूरत नहीं है। हमारे विधायक पार्टी के लिए प्रतिबद्ध हैं। जो ऐसी अफवाहें फैला रहे हैं, उन्हें अपने विधायकों की चिंता करने की जरूरत है। संजय राउत ने कहा कि मोहन भागवत और उद्धव ठाकरे के बीच अभी तक कोई बातचीत नहीं हुई है।

पोर्टफोलियो के समान आवंटन और मुख्यमंत्री पद साझा करने की शिवसेना की मांग को लेकर भाजपा और शिवसेना के बीच गतिरोध बना हुआ है। भाजपा ने ढाई-ढाई साल के लिए मुख्यमंत्री पद साझा करने की शिवसेना की मांग खारिज कर दी है। मौजूदा विधानसभा का कार्यकाल नौ नवंबर को समाप्त होगा। दोनों दलों के सूत्रों ने बुधवार को कहा था कि दोनों दलों के बीच पीछे के दरवाजे से बातचीत चल रही है और सफलता मिलने की उम्मीद है।

गौरतलब है कि, प्रदेश में सरकार गठन को लेकर गतिरोध अभी बना हुआ है। बता दें कि, हालिया चुनाव में किसी भी दल को बहुमत नहीं मिल पाया है। महाराष्ट्र में 288 सदस्यीय विधानसभा के लिये हाल में हुए चुनाव में भाजपा ने 105 सीटों पर जीत हासिल की थी जबकि शिवसेना के खाते में 56 सीटें आई हैं। राकांपा ने 54 सीटें जीतीं और कांग्रेस के खाते में 44 सीटें आई हैं। महाराष्ट्र की 13वीं विधानसभा का कार्यकाल नौ नवंबर को पूरा हो रहा है। (इंपुट: भाषा के साथ)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here