इस महिला ने किया संजय गांधी की बेटी होने का दावा

0

एक जमाने तक कॉर्पोरेट वर्ल्ड में काम करने वाली प्रिया सिंह पॉल का दावा है कि संजय गांधी उनके पिता थे। इसलिए उन्होंने अपना डीएनए टेस्ट कराने की मांग है। प्रिया सिंह पॉल की कहानी किसी फिल्म से कम नहीं है। प्रिया बताती है कि एक पूर्व प्रधानमंत्री की रिश्तेदार ने कुछ बरस पहले उन्हें बताया था कि संजय गांधी उनके पिता थे।

(Photo: AP)

हालांकि, उन्होंने मां का नाम नहीं बताया गया। पॉल के मुताबिक, 1974 में उन्हें एक सिख परिवार ने गोद लिया था। पर मां पारसी और एक डॉक्टर थीं। वह कहती हैं जिस वक्त उन्हें गोद लिया गया उस वक्त गोद लेने वाली मां की उम्र 54 और पिता की उम्र 74 साल थी।

प्रिया का कहना है कि बचपन में उसका नाम प्रियदर्शनी था। गोद लेने के बाद नाम बदल गया। प्रिया सिंह पॉल कहती है कि उनके गोद लेने के कागजात में भी मां और पिता का नाम दर्ज नहीं है। उनका यह भी दावा है कि उनके एडॉप्शन में गड़बड़ी की गई थी। इसलिए उन्होंने सिविल लाइन पुलिस स्टेशन में शिकायत भी दर्ज कराई है।

‘इंदु सरकार’ के खिलाफ पहुंची कोर्ट

खुद को संजय गांधी की संतान बताने वाली प्रिया पाल ने दिल्ली की एक अदालत में आने वाली फिल्म ‘इंदु सरकार’ पर रोक लगाने की मांग की है। पाल का दावा है कि फिल्म में संजय गांधी और उनकी मां इंदिरा गांधी को गलत तरीके से पेश किया गया है।

प्रिया ने दिल्ली की तीस हजारी अदालत में दायर याचिका में कहा है कि उसे गोद लिए जाने के दस्तावेज ‘जाली’ हैं और फिल्म में तथ्यों को तोड़मरोड़ कर पेश किए जाने की वजह से उसे अपनी चुप्पी तोड़नी पड़ी है। पॉल ने दावा किया कि उनकी उम्र 48 साल है और वो फिल्म को प्रमाण पत्र देने के खिलाफ केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड (सीबीएफसी) में अपनी आपत्ति दर्ज करायी है।

बता दें कि संजय गांधी पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी के छोटे बेटे थे। संजय की 1980 में एक विमान दुर्घटना में मौत हो गई थी। संजय को इंदिरा गांधी का उत्तराधिकारी माना जाता था। लेकिन संजय की मौत के बाद उनके बड़े भाई राजीव गांधी राजनीति में सक्रिय हुए।

Pizza Hut

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here