CD कांड: पढ़िए, क्या कहा अरविंद केजरीवाल और उप मुख्यमंत्री मनीष सिसौदिया ने संदीप कुमार के निलंबन को लेकर

0
>

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आज सीडी में एक महिला के साथ आपत्तिजनक स्थिति में नजर आने वाले मंत्री संदीप कुमार को निलंबित कर दिया। उन्हें महिला एवं बाल विकास मंत्री पद से पहले ही बर्खास्त किया जा चुका है।

भाषा की खबर के अनुसार, उप मुख्यमंत्री मनीष सिसौदिया ने कहा संदीप ने जो भी किया वह गलत है और उन्हें पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से निलंबित कर दिया गया है। अनुशासन समिति को रिपार्ट सौंप दी गई है और उनका जो भी निणर्य होगा, पार्टी उसका पालन करेगी । लेकिन पीएसी ने मामले पर चर्चा करने के बाद आज सुबह संदीप को प्राथमिक सदस्यता ने निलंबित कर दिया है।

राजनीतिक मामलों की समिति या पीएसी पार्टी की निणर्य लेने वाली सबसे शीर्ष इकाई है।
मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने अचानक लिए एक निर्णय में फ्क् अगस्त को सामने आई सीडी में एक महिला के साथ आपत्तिजनक स्थिति में नजर आने वाले मंत्री को मंत्रिमंडल से निलंबित कर दिया था।

Also Read:  Reconsider scrapping appointment of DERC chief: Arvind Kejriwal to LG Najeeb Jung

केजरीवाल ने ट्वीट किया, ‘‘ मंत्री संदीप कुमार की ‘‘आपत्तिजनक’ सीडी मुझे मिल गई है। ‘आप’ सार्वजनिक जीवन में सदचरित्र बनाए रखने की बात का समर्थन करता है। इससे समझौता नहीं किया जा सकता। उन्हें तत्काल प्रभाव से हटाया जाता है। ’’

सिसोदिया ने कहा कि यह निणर्य इस लिया गया क्योंकि ‘उनका व्यवहार गलत था’ और उन्होंने पार्टी के मूल्यों का उल्लंघन किया है।

सिसोदिया ने कहा, ‘‘ संदीप कुमार के कृत्यों का बचाव नहीं किया जा सकता..ऐसे व्यवहार को बर्दाश्त नहीं किया जा सकता। मैंने पहले दिन से ही कहा है कि चरित्र, भ्रष्टाचार और अपराध संबंधी मामलों में किसी को बख्शा नहीं जाएगा.अगर ऐसे कोई आरोप कल मुझ पर भी लगे, तो भी यही कार्रवाई की जाएगी। ’’

सूत्रों के अनुसार केजरीवाल के कल वेटिकन सिटी रवाना होने से पहले संदीप को निलंबित करने का निर्णय लिया गया। केजरीवाल वहां मदर टेरेसा को संत की उपाधि दिए जाने वाले समारोह में हिस्सा लेने के लिए गए हैं।

Also Read:  Video: सैनिक की बीवी ने 56 इंच के साइज की ब्रा भेजकर PM मोदी पर निकाली भड़ास, कहा-मनमोहन सरकार की तरह प्रधानमंत्री 'लव लैटर' लिखना बंद करें

संदीप को बर्खास्त किए जाने के एक दिन बाद एक वीडियो संदेश में उन्होंने कहा था कि वह पार्टी के मूल्यों से समझौता करने की जगह मरना पसंद करंेगे । साथ ही उन्होंने यह नियम उनपर और पार्टी के अन्य वरिष्ठ नेताओं पर लागू होने की बात भी कही थी।

उन्होंने वीडियो संदेश में कहा, ‘‘ संदीप कुमार ने पार्टी को धोखा दिया है, उन्होंने आप सरकार को धोखा दिया है और देशभर के उन लोगों को धोखा दिया है जिन्होंने ‘आप’ पर भरोसा जताया। हम अपने मूल्यों से कभी समझौता नहीं करेंगे। हम किसी भी अनुचित काम को बर्दाश्त करने की जगह मरना, पार्टी को बंद करना या नष्ट करना पसंद करेंगे। ’’

Also Read:  AAP MLA criticises Ashutosh over Sandeep Kumar's sacking

पार्टी नेता आशुतोष के ट्वीट कर संदीप का बचाव करने के सवाल पर उन्होंने कहा, ‘‘ यह उनकी निजी राय है लेकिन पार्टी इसे लेकर स्पष्ट है। आप में चरित्र, भ्रष्टाचार और अपराध संबंधित किसी भी आरोपों को सहन नहीं किया जाएगा। अगर ऐसा कोई आरोप मुभ पर भी लगा तो, यही कदम उठाए जाएंगे जो संदीप के खिलाप उठाए गए हैं। ’’

आशुतोष ने एनडीटीवी के ब्लॉग में कहा था कि कुमार के आपत्तिजनक वीडियो पर उठे विवाद ने समाज के पाखंड एवं मीडिया के खोखलेपन को बेनकाब किया है और उन्होंने अचरज प्रकट किया कि स्पष्ट रूप से प्रतीत हो रहे आपसी सहमति वाले इस कृत्य से मीडिया और राजनीति में ऐसा तूफान क्यों मचा है।

मंत्रालय से बर्खास्त किए जाने के बाद संदीप ने आरोप लगाया कि उन्हें दलित होने के कारण षड़यंत्र के तहत निशाना बनाया जा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here