“न नेहरू होते न ये पंगे होते”, आज तक के लाइव टीवी डिबेट में चीन विवाद पर ये बयान देकर बुरी तरह ट्रोल हुए संबित पात्रा

0

हमेशा अपने बयानों को लेकर मीडिया की सुर्खियों में रहने वाले भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा अपने एक बयान को लेकर एक बार फिर से सोशल मीडिया यूजर्स के निशाने पर आ गए है, लोग उन्हें ट्रोल करते हुए जमकर खरी-खोटी सुना रहे हैं।

संबित पात्रा

गौरतलब है कि, पिछले दिनों पूर्वी लद्दाख की गलवान घाटी में चीनी और भारतीय सैनिकों के बीच हुई हिंसक झड़प में भारतीय सेना के कुल 20 सैनिक शहीद हो गए थे। इसके बाद से ही एलएसी पर भारत और चीन के बीच तनाव बढ़ा हुआ है। दोनों देशों के बीच सैन्य स्तर से लेकर कूटनीतिक स्तर तक पर इस विवाद को सुलझाने के प्रयास किए जा रहे हैं। इस बीच, बॉर्डर पर उपजे तनाव पर अपने एक बयान के लिए भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा सोशल मीडिया में बुरी तरह से ट्रोल हो रहे हैं।

दरअसल, भारत-चीन मुद्दे को लेकर हिंदी समाचार चैनल ‘आज तक’ पर एक डिबेट शो हुआ। इस डिबेट में भारतीय जनता पार्टी (भाजाप) की तरफ से संबित पात्रा मौजूद थे तो कांग्रेस की तरफ से पार्टी प्रवक्ता पवन खेड़ा थे। डिबेट के दौरान पवन खेड़ा ने ये कहते हुए संबित पात्रा को घेरा कि अगर मोदी सरकार ठीक रणनीति से काम करती तो पूर्वी लद्दाख की गलवान घाटी में जो हुआ वो ना होता।

कांग्रेस प्रवक्ता पवन खेड़ा की इस बात पर संबित पात्रा हमलावर रुख अख्तियार करते हुए बोलने लगे कि नेहरू ना होते तो ये सारा पंगा ना ही ना होता। इस पर पवन खेड़ा ने उन्हें सांवरकर की संतान कहते हुए बकवास बंद करने की सलाह देने लगे। डिबेट के इस अंश का वीडियो अब सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है।

इस क्लिप को खुद संबित पात्रा ने भी अपने सोशल मीडिया अकाउंट से शेयर किया। इस क्लिप को शेयर करते हुए उन्होंने लिखा, “न नेहरू होते न ये पंगे होते।” संबित पात्रा के इस ट्वीट पर कांग्रेस प्रवक्ता पवन खेड़ा ने लिखा, “नेहरू जी ना होते तो आप सर संबित पात्रा होते और मोदी जी राय बहादुर नरेंद्र मोदी होते… आज भी अंग्रेजों की ग़ुलामी के रंग में रंगे होते।”

संबित पात्रा के इस ट्वीट पर तमाम सोशल मीडिया यूजर्स भी जमकर अपनी प्रतिक्रियाएं दे रहे हैं। एक यूजर ने कमेंट करते हुए लिखा, “संबित सारी शर्म और गरिमा बेच खाई है क्या? आसान नहीं है नेहरू होना, लाख कोशिश कर लें आपके आका मोदी जी। नेहरू बनने के लिए दूरदृष्टि, विवेक और राष्ट्रहित सर्वोपरि रखना पड़ता है। साहेब के बस की बात नहीं।”

एक अन्य यूजर ने लिखा, “अबे संबित पात्रा जिस चीज पर घमंड कर रहा है बोह भी नेहरू की देन है। तुमने क्या किया। पहले पांच साल विदेश घूमने में निकाल दिए ecnomy की ऐसी तैसी कर दी। शर्म कर।” एक अन्य यूजर ने लिखा, “ना मोदी होता ना देश बर्बाद होता, ना मोदी होता ना 20 सैनिक शहीद होते, ना मोदी होता ना पुलवामा हमला होता।” बता दें कि, इसी तरह तमाम यूजर्स अपनी प्रतिक्रियाएं दे रहे हैं।

देखें कुछ ऐसे ही ट्वीट

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here