‘बीफ खाने वाले’ किरण रिजिजू को जन्मदिन की बधाई देकर ट्रोल हुए BJP प्रवक्ता संबित पात्रा

0

भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा ने सोमवार (19 नवंबर) को ट्वीट कर केंद्रीय गृह राज्य मंत्री किरण रिजिजू को जन्मदिन की बधाई दी। हालांकि किरण रिजिजू को बधाई देकर वह सोशल मीडिया यूजर्स के निशाने पर आ गए और उन्हें ट्रोल किया जाने लगा।

संबित पात्रा ने ट्वीट कर लिखा कि किरण रिजिजू जी जन्मदिन की बहुत-बहुत शुभकामनाएं। बीजेपी प्रवक्ता ने केंद्रीय मंत्री के लंबी उमर और स्वस्थ जीवन की कामना की। हालांकि ट्वीट करने के साथ ही सोशल मीडिया पर बीजेपी प्रवक्ता के आलोचक उन्हें ट्रोल करना शुरू कर दिए। लोगों ने संबिप पात्रा पर तंज कसते हुए दावा किया कि बीजेपी प्रवक्ता ने बीफ खाने वाले शख्स को बधाई दिया है।

आपको बता दें कि मिजोरम की राजधानी ऐजल में 2015 में संवाददाताओं से रिजिजू की बातचीत में कहा था, “मैं बीफ खाता हूं, मैं अरुणाचल प्रदेश से हूं, क्या कोई मुझे ऐसा करने से रोक सकता है? इसलिए हमें दूसरों की आदतों के प्रति भावनात्मक नहीं होना चाहिए।” दरअसल, केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा था कि जो बीफ खाना चाहते हैं, उन्हें पाकिस्तान चले जाना चाहिए। इसी बयान पर रिजिजू ने यह टिप्पणी की थी।

दिल्ली में सत्ताधारी आम आदमी पार्टी (AAP) की विधायक अलका लांबा ने भी ट्वीट कर संबित पात्रा पर तंज कसा है। आप विधायक ने ट्वीट कर लिखा है, “बीफ़ खाने वाले को बधाई देते हुए BJP का राष्ट्रीय प्रवक्ता ?.. Healthy Life”

देखिए, यूजर्स की प्रतिक्रियाएं:-

पीएम मोदी भी हुए ट्रोल

आपको बता दें कि इससे पहले गौमांस को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी रविवार (18 नवंबर) को लोगों के निशाने पर आ गए थे। दरअसल पीएम मोदी ने रविवार को गाय को लेकर कांग्रेस पर दोहरी नीति अपनाने का आरोप लगाते हुए छिंदवाड़ा में एक जनससभा में कहा कि एक ओर तो वह (कांग्रेस) मध्य प्रदेश में अपने चुनाव घोषणापत्र में गाय का गौरवगान करती है, वहीं दूसरी ओर केरल में उसके लोग कहते हैं कि गोमांस खाना उनका अधिकार है। प्रधानमंत्री ने सवाल किया कि क्या मध्य प्रदेश और केरल की कांग्रेस अलग-अलग है?

पीएम मोदी ने कहा, ‘‘इस चुनाव में आप (कांग्रेस) मध्यप्रदेश के मतदाताओं को उलझन में डालने के लिये गाय (का मुद्दा) ले आये। लेकिन क्या मध्यप्रदेश की कांग्रेस और केरल की कांग्रेस अलग-अलग है। केरल कांग्रेस का मुखिया भी नामदार (कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी) है और मध्य प्रदेश कांग्रेस का मुखिया भी नामदार है, जो दिल्ली में बैठे हैं। वह तो एक ही हैं।’’ उन्होंने कहा, ‘‘ मध्यप्रदेश के घोषणा पत्र में आप गाय का गौरवगान कर रहे हैं लेकिन केरल में रास्ते पर खुलेआम आपके लोग गाय के बछड़े काटते हुए और उसका मांस खाते हुए तस्वीरे खिंचवा कर बताते हैं कि गोमांस खाना हमारा अधिकार है।’’

प्रधानमंत्री के इस बयान के बाद लोगों ने उन्हें बीजेपी शासित गोवा के की याद दिलाते हुए जमकर निशाना साधा। आपको बता दें कि पिछले साल बीफ पर बयान देते हुए गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर ने विधानसभा में कहा था कि, ‘हमने (कर्नाटक में) बेलगाम से मांस आयात करने का विकल्प बंद नहीं किया है, ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि यहां कोई कमी नहीं हो।’ साथ ही उन्होंने कहा था, ‘मैं आपको भरोसा दे सकता हूं कि पड़ोसी राज्य से आने वाले बीफ की जांच उचित तरीके से और अधिकृत चिकित्सक द्वारा की जाएगी।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here