“पुत्र के चक्कर में 5 पुत्री पैदा हो गई”: अपने इस ट्वीट कर ट्रोल हुए कांग्रेस विधायक जीतू पटवारी, संबित पात्रा ने राष्ट्रीय महिला आयोग में की शिकायत

0

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा ने मध्य प्रदेश के पूर्व मंत्री और कांग्रेस विधायक जीतू पटवारी के एक बयान के खिलाफ बुधवार को राष्ट्रीय महिला आयोग का रुख किया।

संबित पात्रा

संबित पात्रा ने आयोग से कहा कि ट्विटर पर पटवारी का बयान ‘महिला विरोधी’ है क्योंकि यह बेटियों को अनचाहा बताता है। बता दें कि, केंद्र की भाजपा सरकार पर निशाना साधते हुए जीतू पटवारी ने एक ट्वीट में कहा था कि विकास नाम के बेटे को जन्म देने का प्रयास किया गया था, लेकिन नोटबंदी, जीएसटी, मंहगाई, बेरोजगारी और आर्थिक मंदी नाम की पांच बेटियां पैदा हो गई।

इस बयान पर कड़ी आपत्ति जताते हुए पात्रा ने पटवारी के ट्वीट को टैग करते हुए राष्ट्रीय महिला आयोग से इस पर संज्ञान लेने का अनुरोध किया। इस पर प्रतिक्रिया देते हुए आयोग की प्रमुख रेखा शर्मा ने कहा कि वह पटवारी से इस बारे में स्पष्टीकरण मांगेंगी। शर्मा ने कहा कि यह दुख की बात है कि इस तरह की मानसिकता वाले लोग खुद को नेता कहते हैं।

दरअसल, जीतू पटवारी ने पेट्रोल-डीजल की बढ़ी हुई कीमतों को लेकर एक ट्वीट किया था। ट्वीट के जरिए उन्होंने मोदी सरकार को घेरने की कोशिश की। जीतू पटवारी ने अपने ट्वीट में लिखा था, पुत्र के चक्कर में 5 पुत्री पैदा हो गई! 1-नोटबंदी, 2-जीएसटी, 3-महंगाई, 4-बेरोजगारी और 5-मंदी। परंतु अभी तक विकास पैदा नहीं हुआ।

कांग्रेस विधायक के इस ट्वीट पर पुलिस अधिकारी प्रणव महाजन ने भी रिप्लाई करते हुए लिखा “जीतू पटवारी जी, सरकार की आलोचना करना आपका अधिकारी है, परंतु मेरे अनुसार आपके द्वारा उदाहरण बहुत ही गलत संदेश देता है कि बेटियां हमारे लिए अप्रिय हैं। आपसे विनम्र निवेदन है कि आप इस ट्वीट को डिलीट करके सही शब्दावली का प्रयोग करके सरकार की आलोचना करें।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here