समाजवादी पार्टी ने घोषणापत्र में मुसलमानों को 18 प्रतिशत आरक्षण का वादा नहीं किया था-आज़म खान

0

उत्तर प्रदेश के संसदीय कार्यमंत्री आजम खां ने आज विधानसभा में कहा कि सत्तारूढ समाजवादी पार्टी ने मुसलमानों को उनकी आबादी के अनुपात में 18 प्रतिशत आरक्षण देने का वादा कभी नहीं किया था।

जब तक संविधान नहीं बदला जाता तब तक 18 प्रतिशत तो क्या अल्पसंख्यको को 0.18 प्रतिशत आरक्षण भी नहीं दिया जा सकता।’

जनसत्ता की खबर के अनुसार, यह बात आज विधानसभा में कानून एवं व्यवस्था के मद्दे पर पेश कार्यस्थगन प्रस्ताव की ग्राह्यता पर बहस के दौरान नेता प्रतिपक्ष गयाचरण दिनकर के इस आरोप पर कहीं कि सपा सरकार ने मुसलमानों को 18 प्रतिशत आरक्षण देने के वादे पर बेवकूफ बनाया है।

Also Read:  Ram Gopal Yadav, expelled from Samajwadi Party, taken back

यह कहते हुए कि मुसलमान अब जागरूक हो गये है और उन्हें भावनात्मक मुद्दो पर बेवकूफ नहीं बनाया जा सकताआजम ने कहा ’’मुसलमान बच्चे अब कन्चे नहीं कंप्यूटर पर खेलने लगे हैं।
उन्होंने कहा कि मुसलमानों को अब पहले की बातें भी मालूम हो गयी है कि किस तरह बसपा ने तीन बार भाजपा के साथ मिलकर सरकार बनाई और मायावती ने गुजरात में नरेंद्र मोदी के पक्ष में चुनाव प्रचार किया।

Also Read:  Samajwadi Pariwar united, says UP CM Akhilesh Yadav

आजम ने यह भी कहा’ बसपा राज में तमाम जिले बने, मूर्तियां लगी, पार्क बनवाये गए, मगर उनमें से एक भी किसी मुस्लिम महापुरूष के नाम पर नहीं है। यह भी याद दिलाया कि कभी कानपुर की एक जनसभा में बसपा संस्थापक कांशीराम ने अयोध्या विवाद के समाधान के लिए मस्जिद की जगह पर लैट्रिन बनवा देने की बात कहीं थी।

Also Read:  कार्यकर्ताओं को संबोधित करते अखिलेश हुए भावुक, बोले - अगर नेता जी मुझे कहते तो मैं इस्तीफ़ा दे देता, पार्टी में मेरा कुछ नहीं

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here