#MeToo: अब सलमान खान की एक्स गर्लफ्रेंड सोमी अली ने सुनाई आपबीती, कहा- 14 साल की उम्र में मेरे साथ हुआ था रेप

0

देश भर में चल रहे ‘मी टू’ अभियान के तहत हर रोज चौंकाने वाले खुलासे हो रहे हैं। महिलाओं के इस अभियान का बड़े पैमाने पर समर्थन भी मिल रहा है। देश भर से मिल रहे भारी समर्थन से उत्साहित महिलाएं अब सोशल मीडिया पर हर रोज अपनी-अपनी आपबीती सुना रहीं हैं।

इस बीच बॉलीवुड के ‘दबंग’ अभिनेता सलमान खान की पूर्व प्रेमिका व अभिनेत्री सोमी अली ने कहा है कि जब वह बच्ची और किशोरी थी तब वह यौन उत्पीड़न और दुष्कर्म का शिकार हुई थीं। समाचार एजेंसी IANS के मुताबिक, उन्होंने ऐसी ही तकलीफों से गुजरने वाली अन्य महिलाओं से भी आगे आकर यौन शोषण के खिलाफ ‘मीटू’ मुहिम से जुड़ने की अपील की है।

सोमी अली ने सोमवार को अपने इंस्टाग्राम पोस्ट में लिखा, “पांच साल की उम्र में मेरा यौन उत्पीड़न हुआ और 14 साल की उम्र में मेरे साथ दुष्कर्म हुआ। मैं उन सभी को सलाम करना चाहूंगी जिन्होंने अपने साथ हुई ऐसी घटनाओं के बारे में बोला और जिन्होंने बोलने का फैसला किया है। मैं समझती हूं कि यह करना बहुत मुश्किल है क्योंकि मेरे साथ भी ऐसा हो चुका है और मुझे इससे जुड़ी बात साझा करने में बहुत लंबा समय लगा।”

पाकिस्तान से ताल्लुक रखने वाली सोमी ने 2015 में अपनी आत्मकथा में पहली बार यौन उत्पीड़न के बारे में बोला। सोमी ने 1990 की शुरुआत में बॉलीवुड में कदम रखा था, लेकिन कुछ सालों बाद वह अमेरिका के शहर फ्लोरिडा चली गईं जहां उन्होंने ‘नो मोर टीयर्स’ नामक एनजीओ की स्थापना की।

सोमी ने कहा, “यह आपका सच है और सच बोलने से कभी डरिए नहीं। इस मौके को व्यर्थ में मत जाने दीजिए। इस अवसर का हम सभी को लंबे समय से इंतजार था। आपके पास यह मौका है कि आपकी बात सुनी जाए और आपको न्याय मिले। मुझे आप पर पूरा विश्वास है।”

View this post on Instagram

As a survivor of sexual abuse at the age of 5 and rape at 14, I would like to salute all those that have spoken up and plan on doing so. I know it is very difficult to do it because I have been there and it took me many years to be able to talk about it. It takes immense amount of courage to share this with the world. It’s even harder when you tell those that are close to you and they are supposed to protect you, yet they do nothing. I have been there too and it hurts like hell. But I want these survivors to know it is truly liberating and completely worth it. Do not let the nonbelievers stop you. This is your truth. Do not ever be afraid to speak your truth. Do not let this opportunity pass you. This is a moment that has been long overdue for all of us. This is your chance to be heard and finally obtain justice. I believe you. . . . . #metoo #ibelieveyou #somyali #speakup #shoutitout #iamwithyou #survivors #truth #takeastand #staystrong #wecandoit #justice #longoverdue #pakistan #india #bollywood

A post shared by Somy Ali (@realsomyali) on

सोमी ने कहा, “यह तब और भी मुश्किल हो जाता है जब आपके आसपास मौजूद वे लोग भी आपकी मदद न करें जिन पर आपकी सुरक्षा की जिम्मेदारी है। मेरे साथ भी ऐसा हुआ है और इसकी तकलीफ को बयान करना मुश्किल है। लेकिन मैं चाहती हूं कि ऐसी घटनाओं से गुजरने वाले लोग इस बात को जानें कि इसके बारे में खुलकर बोलने से आजादी मिलती है और ऐसा करना सही है।”

‘मी टू’ अभियान ने पकड़ा तूल

आपको बता दें कि भारत में जारी ‘मी टू’ अभियान (यौन उत्पीड़न के खिलाफ अभियान) तूल पकड़ता जा रहा है। कई अन्य महिलाएं अपने अनुभवों को सार्वजनिक तौर पर शेयर कर रही हैं। अभिनेत्री तनुश्री दत्ता द्वारा मशहूर अभिनेता नाना पाटेकर पर यौन शोषण का आरोप लगाए जाने के बाद अब अलग-अलग इंडस्ट्री की बाकी हस्तियों ने भी अपने साथ हुए यौन दुर्व्यवहार के खिलाफ आवाज उठानी शुरू कर दी है।

फिल्म इंडस्ट्री से ‘मी टू’ अभियान की शुरुआत होने के बाद इसकी चपेट में मीडिया जगत भी आ गया है और इसकी लपटें मोदी सरकार के एक मंत्री को अपने लपेटे में ले रही हैं। अपने समय के मशहूर संपादक व वर्तमान में केंद्रीय विदेश राज्य मंत्री एम.जे. अकबर पर 9 वरिष्ठ महिला पत्रकारों ने यौन उत्पीड़न और अनुचित व्यवहार के आरोप लगाए हैं। इन महिलाओं ने उन पर तमाम मीडिया संस्थानों में संपादक रहते हुए यौन उत्पीड़न करने का आरोप लगाया है।

नाना पाटेकर के बाद जहां डायरेक्टर विकास बहल, सिंगर कैलाश खेर, लेखक चेतन भगत, अभिनेता रजत कपूर, मॉडल जुल्फी सैयद, अभिनेता आलोक नाथ, हिंदुस्तान टाइम्स के संपादक प्रशांत झा, रघु दीक्षित, कमेंटेटर सुहेल सेठ, महिला कॉमिक स्टार अदिति मित्तल, बॉलीवुड के शोमैन सुभाई घई, फिल्ममेकर साजिद खान, लेखक-निर्देशक पीयूष मिश्रा और बीसीसीआई के सीईओ राहुल जौहरी भी ‘मी टू’ की चपेट में आए हैं, जिनपर यौन उत्पीड़न, बदसलूकी, गलत तरीके से छूने जैसे आरोप लगे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here