रियो ओलंपिक: साक्षी ने दिलाया भारत को पहला मेडल

0

भारत की साक्षी मलिक ने रियो ओलिंपिक में  इतिहास रच दिया है।साक्षी भारत की ओर से कुश्ती में पदक जीतने वाली पहली महिला पहलवान बन गई है।

sakshimalik_ap-696x464

साक्षी मलिक ने महिला कुश्ती की 58 किग्रा स्पर्धा में रेपेचेज के जरिये कांस्य पदक जीतकर आज यहां रियो ओलंपिक खेलों में भारत को पदक तालिका में जगह दिलाई और 11 दिन की मायूसी के बाद भारतीय प्रशंसकों को जश्न मनाने का मौका दिया।

भारत की दूसरी पहलवान विनेश फोगाट हालांकि चोटिल होने के कारण क्वार्टर फाइनल मुकाबले से ही बाहर हो गई जबकि बैडमिंटन पुरूष एकल में किदांबी श्रीकांत को कड़ी चुनौती पेश करने के बावजूद दो बार के गत चैम्पियन चीन के लिन डैन के खिलाफ शिकस्त का सामना करना पड़ा।

साक्षी को क्वार्टर फाइनल में रूस की वालेरिया कोबलोवा के खिलाफ 2-9 से शिकस्त का सामना करना पड़ा था लेकिन रूस की खिलाड़ी के फाइनल में जगह बनाने के बाद उन्हें रेपेचेज राउंड में खेलने का मौका मिला।

दूसरे दौर के रेपेचेज मुकाबले में साक्षी का सामना मंगोलिया की ओरखोन पुरेवदोर्ज से हुआ जिन्होंने जर्मनी की लुईसा हेल्गा गेर्डा नीमेश को 7-0 से हराकर भारतीय पहलवान से भिड़ने का हक पाया था।

ताइनीबेकोवा के खिलाफ साक्षी की शुरूआत बेहद खराब रही और वह पहले राउंड के बाद 0-5 से पिछड़ रही थी लेकिन भारतीय खिलाड़ी ने दूसरे राउंड में जोरदार वापसी करते हुए आठ अंक जुटाए और भारत को रियो ओलंपिक खेलों का पहला पदक दिला दिया।

LEAVE A REPLY