पाकिस्तानी कलाकारों के विरोध के बीच सैफ अली खान ने भी तोड़ी चुप्पी

0

अभिनेता सैफ अली खान ने कहा है कि भारतीय फिल्म उद्योग सीमा पार की प्रतिभाओं के लिए खुला है, लेकिन यह सरकार को निर्णय करना है कि किसे यहां काम करने की इजाजत दी जाए।

उरी में हुए आतंकी हमले के मद्देनजर, पिछले हफ्ते महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (एमएनएस) ने फवाद खान और माहिरा खान जैसे पाकिस्तानी कलाकारों को भारत छोड़ने की धमकी दी थी और कहा था कि यदि वे भारत नहीं छोड़ते हैं तो उनकी फिल्म की शूटिंग में खलल डाला जाएगा।

Also Read:  मुख्यमंत्री केजरीवाल की उपकुलपति को चिट्ठी, करे मोदी की डिग्री का खुलासा

भाषा की खबर के अनुसार, 46 वर्षीय अभिनेता ने जीक्यू मैन ऑफ द ईयर अवॉर्ड में कहा, इसे (सांस्कृतिक आदान प्रदान) को निश्चित तौर पर बढ़ावा देना चाहिए. उद्योग वैश्विक प्रतिभा के लिए खुला है, खासतौर पर सीमा पार से आने वालों के लिए, लेकिन सरकार को इन चीजों पर फैसला करना है।

Also Read:  Kareena Kapoor celebrates birthday with family, close friends

उन्होंने कहा, हम कलाकार हैं और हम प्यार तथा शांति के बारे में बात करते हैं, लेकिन सरकार को कानून के बारे में और किसे यहां काम करने की इजाजत देनी है और किसे नहीं, ऐसे फैसले लेने होते हैं. करण जौहर, हंसल मेहता, अनुराग कश्यप, वरुण धवन और राकेश ओमप्रकाश मेहरा जैसी हस्तियां पहले ही भारत में पाकिस्तानी कलाकारों के बहिष्कार की मांग पर अपने विचार रख चुकी हैं।

Also Read:  हिन्दी दिवस के दिन 'राहुल गांधी के बारे में' गलत 'हिन्दी' लिखे जाने पर संबित पात्रा हो गए ट्रोल

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here