PM मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में साधुओं ने बलात्कारी बाबा राम रहीम को फांसी देने की मांग की

0
5

15 साल पुराने केस में शुक्रवार(25 अगस्त) को पंचकूला की सीबीआई कोर्ट ने डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह को दुष्कर्म के मामले में दोषी करार दिया, उनके सजा का ऐलान आज(28 अगस्त) को होगा। इसके लिए रोहतक जेल में कोर्ट रूम बनाया गया है, जेल के आसपास किसी भी संदिग्ध को देखते ही गोली मारने के आदेश हैं। हरियाणा और पंजाब में सुरक्षा के व्यापक इंतजाम किए गए हैं।

वहीं दूसरी और गुरमीत राम रहीम सिंह के खिलाफ पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में साधुओं ने भी मौर्चा खोल दिया है। समाचार एजेंसी ANI के मुताबिक, वाराणसी में साधुओं ने राम रहीम के खिलाफ प्रदर्शन करते हुए फांसी की मांग की है।

इस तस्वीर में आप देख सकते है कि, साधुओं के हाथों में कुछ पोस्टर है और उसमें लिखा है कि, बलात्कारी बाबा को फांसी दो- फांसी दो। वहीं एक पोस्टर पर राम रहीम की फोटो लगाई गई है और उसी के साथ फांसी का फंदा भी दिखाया गया है।

बता दें कि 50 वर्षीय डेरा प्रमुख को शुक्रवार को 2002 के दुष्कर्म मामले में दोषी करार दिया गया, उसके बाद उसे हिरासत में रोहतक जेल में रखा गया है। जब राम रहीम को दोषी करार दिया गया था तो उसके बाद डेरा समर्थकों ने हरियाणा, पंजाब सहित कई राज्यों पर जमकर उत्पात मचाया था।

हरियाणा के डीजीपी बीएस संधु के मुताबिक बाबा को दोषी करार दिए जाने के बाद फैली हिंसा में अब तक 36 लोगों की मौत हुई है जबकि 250 से अधिक लोग घायल हो गए हैं। डेरा समर्थकों ने अलग-अलग जगहों पर करीब 100 गाड़ियों को आग के हवाले कर दिया थी।

हाईकोर्ट ने हरियाणा सरकार को लगाई फटकार 

डेरा सच्च सौदा प्रमुख राम रहीम को दुष्कर्म मामले में दोषी ठहराए जाने के बाद हुई हिंसा पर पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट ने शनिवार को हरियाणा सरकार को जमकर फटकार लगाई। मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर की सरकार पर सख्त टिप्पणी करते हुए कहा कि राजनीतिक फायदे के लिए हिंसा होने दी गई।

 

डेरा समर्थकों से एके-47 बरामद

हिंसा के बाद शनिवार को हरकत में आई पुलिस ने राज्य में डेरा सच्च सौदा के 36 समागम केंद्रों को सील कर दिया। डेरा समर्थकों के ठिकानों और वाहनों की तलाशी में पुलिस को एके-47 और दो रायफलें भी मिलीं। राज्य के मुख्य सचिव डीएस ढेसी ने बताया कि सिरसा, कैथल समेत पूरे राज्य में ऑपरेशन के दौरान डेरे से संबंधित एक वाहन से एक एके-47 राइफल, एक माउजर जब्त की गई है, जबकि दूसरे एक अन्य वाहन से दो रायफल और पांच पिस्टल जब्त किए गए।

तलाशी के दौरान 2500 से अधिक लाठियां, लोहे की रॉड और अन्य धारदार हथियार बरामद हुए। एक डेरा प्रधान के घर के बाहर से 6 पेट्रोल बम बरामद हुए हैं। कुरुक्षेत्र के पुलिस अधीक्षक अभिषेक गर्ग ने बताया कि जिले के सभी नौ समागम केंद्रों को सील कर दिया गया है और इनमें प्रवेश पर रोक लगा दी गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here