VIDEO: रेयान इंटरनेशनल की प्रिंसिपल और अंजू मेम ने हत्या के पीछे बताई ब्लू व्हेल गेम की वजह, प्रिंसिपल हुई निलंबित

0

रेयान इंटरनेशनल स्कूल में 7 वर्षीय प्रद्युमन की निर्मम हत्या के बाद स्कूल पर सवालिया निशान उठने शुरू हो गए थे जिसके बाद स्कूल प्रशासन ने प्रिंसिपल को निलंबित कर दिया है। जबकि माना जा रहा है कि प्रिंसिपल और स्कूल की ही अंजू मेम इस हत्या के सारे राज जानती है। लेकिन उन्होंने अपना बचाव करते हुए इस सारे मामले को एक अलग ही दिशा में मोड़ दिया है। स्कूल की प्रिंसिपल और अंजू मेम ने हत्या के पीछे ब्लू वहेल गेम के होने की वजह को बताया है।

रेयान इंटरनेशनल

इस हत्या में झोल तभी नजर आने लगा था तब हत्याकांड के कुछ समय बाद ही पुलिस के सामने आकर बस कंडक्टर ने अपना जुर्म स्वीकार कर सारी कहानी बंया कर दी थी। सवाल उठने लगा था कि आखिर इतनी आसानी से कंडक्टर सारे गुनाह अपने सिर पर क्यों ले रहा है।

इस हत्या के जुड़े कुछ रहस्य हो सकते है जिसे स्कूल टीचर अंजू जानती होगी क्योंकि हत्या के बाद वह प्रिंसिपल के साथ बच्चे की मां ज्योति ठाकुर से मिलने गई थी और वहां जाकर उन्होंने कहा कि बच्चे ने ब्लू व्हेल गेम की वजह से हत्या की है इसके पीछे इसी गेम का हाथ है जबकि दूसरी और बस कंडक्टर ने अपने आपको इस जुर्म की वजह बताया है।

स्कूल प्रशासन ने अपना पल्ला झाड़ते हुए प्रिंसिपल को तो निलंबित कर दिया लेकिन अंजू मेम कहां है। वह अभी तक मीडिया के सामने क्यों नहीं आई?

जबकि इस पूरे मामले में अभी तक स्कूल प्रशासन ने इस सारे मामले में चुप्पी साध रखी है और आज स्कूल को छावनी में बदल दिया गया है। भारी पुलिसबल स्कूल में तैनात कर दिया गया है। यहां तक कि मीडिया तक को बाहर से ही रिर्पोटिंग करनी पड़ रही है। जबकि स्कूल पूरी तरह से खाली बताया जा रहा है आज स्कूल में कोई भी नहीं आया है।

पुलिस कहती है कंडक्टर ने मासूम प्रद्युम्न का कत्ल किया है। इसका नाम अशोक है। अशोक गुरूग्राम के रेयान स्कूल में पिछले आठ महीने से काम कर रहा है।

जबकि इस सारे मामले में बच्चे की मां ज्योति ठाकुर का कहना है कि स्कूल प्रशासन ने हमसे सच्चाई छिपाई और कहा कि बच्चा टायलेट में गिर गया है। मेरा बच्चा तो उस कंडक्टर को जानता तक नहीं था। आरोप है कि स्कूल प्रशासन कुछ तथ्य छिपा रहा है। स्कूल के बाहर अन्य अभिभावक भारी संख्या में एकत्र हो चुके है। लेकिन सारे मामले में स्कूल प्रशासन की गैरमौजूदगी कई सारे सवालों को खड़ा कर रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here