पुणे: भ्रष्टाचार के खिलाफ आवाज उठाने वाले RTI कार्यकर्ता की क्रूर हत्या, कांग्रेस के पूर्व पार्षद सहित 11 गिरफ्तार

0

पुणे जिला के पिंपरी चिंचवड़ इलाके में आने वाले खरालवाड़ी में रविवार(9 मार्च) को देर रात स्थानीय नगर सेक्टरों में भ्रष्टाचार के खिलाफ आवाज उठाने वाले आरटीआई कार्यकर्ता सुहास हल्दंकर की क्रूरता से हत्या कर दी गई। पुलिस ने इस मामले में कांग्रेस के पूर्व पार्षद सदगुरु कदम समेत 11 लोगों को गिरफ्तार किया है।

फोटो: indianexpress

पुलिस ने सभी आरोपियों को सोमवार को कोर्ट में पेश किया, जहां से सभी को आठ दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया गया। इस घटना के बाद स्थानीय लोगों में भारी नाराजगी है। सैकड़ों लोगों ने अपराधियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग करते हुए मार्च निकाला।

पुलिस के मुताबिक, सुहास हल्दंकर(35) अपने बाइक से रविवार रात करीब 10 बजे खरालवाड़ी इलाके से जा रहे थे। तभी बीच रास्ते में सात से आठ लोगों ने सुहास को रोककर उनके साथ झगड़ा शुरू किया। इसी दौरान उन लोगों ने सुहास के सिर पर सीमेंट ब्लॉक से हमला कर दिया, जिससे उसकी मौके पर ही मौत हुई।

घटना के बाद मौके से सभी आरोपी भागने में सफल रहे। सुहास के मौत की खबर सुनते ही स्थानीय लोगों ने पथराव शुरू कर दिया। बाद में पुलिस मौके पर पहुंचकर हालात पर काबू पाया। बताया जाता है कि महापालिका चुनाव के दौरान सुहास ने खरालवाड़ी इलाके में बुनियादी सुविधाओं को लेकर आवाज उठाया था। जिसके बाद उनके और कांग्रेस के कुछ लोगों के बीच झगड़ा भी हुआ था।

बहरहाल पुलिस ने सुहास हत्याकांड में पूर्व नगरसेवक सदगुरु महादेव कदम सहित कुल 11 लोगों को गिरफ्तार किया है। सदगुरु कदम के अलावा जिन अन्य लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है उनमें कल्या उर्फ ​​संदीप तानाजी कलापुरे, प्रीत रेजी घादगे, अभिजीत बालासाहेब कलापुरे, दत्तात्रेय उर्फ ​​फलिया गुलाब कलापुरे, संतोष मगन उर्फ मुंड्या अर्बेकर, प्रवीण उर्फ ​​झिंगरा महादेव कदम, खांडिया उर्फ ​​प्रवीण पांडुरंग सावंत, संतोष उर्फ ​​बाब्या चंद्रकांत कदम, अमर मोहम्मद पठान और सतीश महादेव कदम शामिल हैं।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here