दिल्ली BJP में घमासान: विजय गोयल की कार्यक्रम में शामिल हुए पार्षदों से मनोज तिवारी नाराज, करेंगे कार्रवाई

0

किस राजनीतिक पार्टी में कब घमासान शुरू हो जाए, यह कोई नहीं जानता। पहले हम आम आदमी पार्टी(AAP) में जिस प्रकार के घमासान को देख रहे थे, ठीक वैसी ही जंग इन दिनों MCD चुनावों में प्रचंड जीत के बाद भी दिल्ली बीजेपी के अंदर देखने को मिल रहा है।

फोटो: The Indian Express

जी हां, अगर मीडिया रिपोर्ट की माने तो इस वक्त दिल्ली बीजेपी में जबरदस्त खींचतान चल रही है। ये लड़ाई दिल्ली बीजेपी के अध्यक्ष मनोज तिवारी और केंद्रीय मंत्री विजय गोयल के बीच चल रही है। रिपोर्ट के मुताबिक, यह शीतयुद्ध इतनी ज्यादा आगे बढ़ गई है कि केंद्रीय संगठन मंत्री रामलाल ने दिल्ली के संगठन मंत्री सिद्धारथन को मामला शांत कराने की जिम्मेदारी सौंपी है।

दरअसल, मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, मनोज तिवारी उन पार्षदों से नाराज हैं जो उनके निर्देशों के विरुद्ध जाकर केंद्रीय मंत्री विजय गोयल के कार्यक्रम में शामिल हुए। इतना ही नहीं तिवारी ने इस समारोह में पार्टी के निर्देशों के खिलाफ जाकर शामिल हुए अपने पार्षदों को कारण बताओ नोटिस जारी किया है।

साथ ही पार्टी ने इस कदम को अनुशासनहीनता करार देते हुए उन पार्षदों को लिखित नोटिस भेजकर जवाब मांगा है। और पार्टी नेतृत्व ने गोयल के समारोह में शामिल हुए इन पार्षदों को नगर निगम में कोई बड़ी जिम्मेदारी नहीं देने का फैसला किया है।

दरअसल, यह घमासान तब खुलकर सामने आ गई जब केंद्रीय मंत्री विजय गोयल ने 16 मई को नव निर्वाचित पार्षदों के सम्मान में एक समारोह आयोजित किया था। दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष मनोज तिवारी ने सम्मान समारोह से खुद को अलग कर लिया।साथ ही इसे कार्यक्रम को लेकर दिल्ली बीजेपी के महासचिव ने सभी पार्षदों को यह फरमान जारी कर दिया कि यह समारोह प्रदेश अध्यक्ष की मर्जी के खिलाफ आयोजित किया जा रहा है। इसलिए इस समारोह में कोई भी पार्षद भाग न लें।

रिपोर्ट की मानें तो चेतावनी के बावजूद गोयल के इस कार्यक्रम में नवनिर्वाचित 184 पार्षदों में से करीब 26-30 पार्षद शामिल हो गए, जिसमें जयप्रकाश, शिखा राय, संतोष पाल प्रमुख हैं। कार्यक्रम में दिल्ली बीजेपी के नेताओं, सांसदों, विधायकों और पार्षदों को आमंत्रित किया गया था। अब बीजेपी ने इन पार्षदों को लिखित नोटिस भेजकर जवाब मांगा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here