‘तीन तलाक के मुद्दे पर दोहरा मापदंड अपना रही है BJP और मोदी सरकार’

0
Follow us on Google News

सुप्रीम कोर्ट ने एक ऐतिहासिक फैसले में मंगलवार(22 अगस्त) को मुस्लिम समुदाय में प्रचलित एक बार में ‘तीन तलाक’ कह कर तलाक देने की 1400 साल पुरानी प्रथा खत्म करते हुये इसे पवित्र कुरान के सिद्धांतों के खिलाफ और इससे इस्लामिक शरिया कानून का उल्लंघन करने सहित अनेक आधारों पर निरस्त कर दिया। कोर्ट का फैसला आते ही इस मामले में श्रेय लेने की होड़ लग गई।

खासतौर से बीजेपी और मोदी सरकार मुस्लिम महिलाओं की हमदर्द बनने की कोशिश में लग गई। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बिना देर किए शीर्ष अदालत के फैसले को ऐतिहासिक करार दिया है। पीएम मोदी ने ट्वीट कर कहा, सुप्रीम कोर्ट का तीन तलाक पर फैसला ऐतिहासिक है। यह मुस्लिम महिलाओं को समानता देता है और महिला सशक्तीकरण के लिए एक मजबूत कदम है।

इतनी ही नहीं इस फैसले के बाद भारतीय जनता पार्टी(बीजेपी) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने भी दिल्ली में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर पीएम मोदी और केंद्र सरकार दोनों को पार्टी की ओर से धन्यवाद देते हुए कहा कि इस फैसले के साथ मुस्लिम महिलाओं के लिए नए युग की शुरुआत होगी।

वहीं, गोरखपुर हादसे के बाद आलोचनाओं का शिकार हो रहे उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी मीडिया के सामने आकर अपनी प्रतिक्रिया दी। साथ ही दिल्ली में बीजेपी के तमाम नेताओं ने मीडिया के सामने आकर इस पर अपनी प्रतिक्रिया दी।

इस मामले में बीजेपी की सक्रियता पर ‘जनता का रिपोर्टर’ के प्रधान संपादक रिफत जावेद ने अपनी प्रतिक्रिया देते हुए मोदी सरकार पर दोहरा मापदंड अपनाने का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले के 25 से 30 मिनट के बाद आनन-फानन में यूपी मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ बाहर आएं और उन्होंने वह किया जो वह कभी नहीं करते हैं।

रिफत ने गोरखपुर में मासूमों की मौत का मुद्दा उठाते हुए कहा कि, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को सैकड़ों मासूमों की मौत पर तत्काल प्रतिक्रिया देने के लिए टाइम नहीं मिला, लेकिन इस मुद्दे पर वह फौरन बाहर आए और एक-एक मीडियाकर्मियों को इंटरव्यू दिया। जावेद ने कहा कि उसके कुछ समय के बाद बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने दिल्ली में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि इस फैसले से मुस्लिम महिलाओं के लिए नए युग की शुरुआत होगी।

साथ ही उन्होंने कहा कि पीएम मोदी पर दोहरा मापदंड अपनाने का आरोप लगाते हुए कहा कि गोरखपुर हादसे पर एक भी ट्वीट नहीं करने वाले पीएम मोदी ने इस फैसले का ऐतिहासिक करार दिया। रिफत ने बीजेपी और मोदी सरकार पर तीन तलाक के मामले को लेकर राजनीति करने का आरोप लगाया है। उन्होंने कुछ ख़बरों का उदाहरण देते हुए बताया कि, इन नेताओं को मुस्लिम औरतों से कितनी हमदर्दी है?

उन्होंने कहा कि जब देश में किसी अन्य महिला पर कोई अत्याचार होता है तो उसपर पीएम मोदी और अमित शाह की कोई प्रतिक्रिया क्यों नहीं आती है? रिफत ने आरोपों लगाया कि मोदी सरकार और बीजेपी को मुस्लिम औरतों के साथ किसी भी प्रकार की हमदर्दी नहीं है, बल्कि वह अपना वोट बैंक चमकाने में लगे हुए हैं।

देखिए, रिफत जावेद का यह पूरा वीडियो:-

 

 

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here