जानें, क्यों अनुराग कश्यप को ट्रोल करते हुए यूजर बोले- “मुझे रिपब्लिक के बजाय टाइम्स नाउ वाला अर्नब गोस्वामी दे दो” 

0

एक प्रश्न जो इस साल के लोकसभा चुनावों के दौरान बहस पर हावी होता दिखाई दे रहा है कि वह यह कि अगर नरेंद्र मोदी पसंद नहीं हैं तो भारतीयों को किसे वोट देना चाहिए? प्रसिद्ध फिल्म निर्माता अनुराग कश्यप भी रविवार को इस बहस में कूद हो गए। उन्होंने मोदी के विकल्प के रूप में वरिष्ठ बीजेपी नेता नितिन गडकरी के नाम का समर्थन किया। इसके कारण उन्हें लगातार यह कहते हुए ट्रोल करना शुरू कर दिया गया कि गडकरी को चुनना रिपब्लिक टीवी के अर्नब गोस्वामी के लिए टाइम्स नाउ के अरनब गोस्वामी की सराहना करने के समान है, जहां वह अधिक शातिर और तर्कहीन लगने लगे हैं।

अर्नब गोस्वामी

बता दें कि गडकरी कई बार खुद के पीएम बनने की संभावनाओं को खारिज कर चुके हैं। लेकिन अनुराग कश्यप ने एक यूजर के ट्विट पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते लिखा कि मैं आपको बता दूं कि बीजेपी के भीतर मोदी के लिए एक बड़ा विकल्प गडकरी हैं। भारतीय राजनीति से एक चीज कभी समाप्त नहीं कर सकते हैं वह है भ्रष्टाचार। वे सभी एक समान हैं। लेकिन आप निश्चित रूप से सांप्रदायिकता, घृणा और भय की राजनीति कर सकते हैं।

बॉलीवुड के मशहूर फिल्म निर्माता के इस ट्वीट से असहमति जताते हुए ज्यादातर सोशल मीडिया यूजर्स ने उन्हें ट्रोल करते हुए खूब प्रतिक्रियाएं दी हैं। पत्रकार प्रिया रमानी ने लिखा, “सबसे भोला।” पत्रकार मोहन सिन्हा ने लिखा, “हा हा! गडकरी? एक आदमी जो आरएसएस की परवरिश करता है और उनकी खाकी शान के साथ पहनता है!! एक जीवन कश्यप प्राप्त करें।”

एक अन्य ट्विटर यूजर ने लिखा है कि यह वास्तव में कश्यप का सबसे मूर्खतापूर्ण विचार है, जो बॉम्बे वेलवेट से भी अधिक है। गडकरी आरएसएस के सबसे करीबी व्यक्ति हैं। अब कश्यप लिखेंगे, आरएसएस के सभी लोग बुरे नहीं हैं, उनमें से कुछ अच्छे भी हैं। इस तरह से उदारवादियों ने फासीवाद को सामान्य कर दिया है। इसके अलावा एक सदिपन मित्रा नाम के यूजर ने तंज कसते हुए ट्वीट किया, “मुझे रिपब्लिक टीवी के अर्नब गोस्वामी के बजाय टाइम्स नाउ वाला अर्नब गोस्वामी दे दो”

उल्लेखनीय है कि 11 अप्रैल को पहला चरण का चुनाव समाप्त हो गया है। अब दूसरे चरण के लिए 18 अप्रैल को होने वाले मतदान के मद्देनजर 16 अप्रैल को शाम पांच बजे से प्रचार अभियान थम जाएगा। इस बार चुनाव 11 अप्रैल से 19 मई के बीच सात चरणों में हो रहा है और वोटों की गिननती 23 मई को होगी।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here