अगर नोटबंदी भ्रष्टाचार, कालाधन खत्म कर दे तो ‘मोदी-मोदी’ के नारे लगाने को तैयार : केजरीवाल

0

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने रविवार को कहा कि अगर नोटबंदी भ्रष्टाचार और कालाधन खत्म कर दे, तो वह ‘मोदी-मोदी’ के नारे लगाएंगे।

उन्होंने अपनी मांग दोहराई कि प्रधानमंत्री इस फैसले को वापस लें, वरना देश की अर्थव्यवस्था बर्बाद हो जाएगी. केजरीवाल ने कहा कि प्रधानमंत्री एक दिन में कई बार अपने कपड़े बदलते हैं, लेकिन वह लोगों को नोटबंदी के कारण कभी-कभार त्याग करने का प्रवचन देते हैं।

Also Read:  ओबीसी की केंद्रीय सूची में पंद्रह नई जातियां शामिल

केजरीवाल

उन्होंने कहा, ‘नोटबंदी के कारण श्रमिक, किसान और कारोबारी बर्बाद हो गए हैं और लोग अपनी नौकरियां गंवा रहे हैं, लेकिन प्रधानमंत्री कई बार कपड़े बदलने में व्यस्त हैं।

मोदी जी आप जो भी कहते हैं, आपको पहले अपने ऊपर इसे लागू करना चाहिए।’ बवाना में कारोबारियों को संबोधित करते हुए केजरीवाल ने कहा कि उनके कई मोर्चों पर प्रधानमंत्री के साथ मतभेद हैं, लेकिन अगर वह स्वच्छ भारत अभियान, योग दिवस जैसे अच्छे काम करेंगे तो वह हमें अपने साथ खड़ा पाएंगे।

Also Read:  नोटबंदी के खिलाफ पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में आज जनसभा को संबोधित करेंगे केजरीवाल

कारोबारियों के एक धड़े द्वारा ‘मोदी-मोदी’ के नारे के बीच उन्होंने कहा, ‘अगर नोटबंदी वास्तव में भ्रष्टाचार और कालाधन खत्म कर देगी, तो मैं भी ‘मोदी मोदी’ के नारे लगाऊंगा। हमने अन्ना जी के साथ भ्रष्टाचार रोधी आंदोलन में अपने जिंदगियां जोखिम में डाली थीं।

Also Read:  सोशल मीडिया पर पीएम मोदी का मजाक उड़ाने के कारण पंचायत अधिकारी निलंबित

भाषा की खबर के अनुसार, केजरीवाल ने कहा, ‘हमने स्वच्छ भारत अभियान, योग दिवस और सर्जिकल स्टाइक के लिए प्रधानमंत्री के कदम का स्वागत किया था, लेकिन पीएण मोदी ने नोटबंदी लाकर गलती की है और हम इसका विरोध करेंगे। बाद में एक सोशल नेटवर्किंग वेबसाइट पर वीडियो डालकर दिल्ली के मुख्यमंत्री ने अपनी मांग दोहराई कि प्रधानमंत्री नोटबंदी का फैसला वापस लें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here