RBI गवर्नर उर्जित पटेल ने पद से दिया इस्तीफा, व्यक्तिगत कारणों का दिया हवाला

0

केंद्र सरकार और रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (आरबीआई) के बीच तनातनी की खबरों के बीच गवर्नर उर्जित पटेल ने सोमवार (10 दिसंबर) को अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। बता दें कि पिछले महीने सरकार और आरबीआई के बीच कई मांगों को लेकर खींचतान चल रहीं थी। उन्होंने इसके पीछे व्यक्तिगत कारणों का हवाला दिया है।

गवर्नर
फाइल फोटो: उर्जित पटेल

इस्तीफा देने के बाद उर्जित पटेल ने कहा कि व्यक्तिगत कारणों के चलते मैने वर्तमान पद (आरबीआई के गवर्नर) से तत्काल प्रभाव से इस्तीफा देने का फैसला किया। वर्षों तक रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया के अलग पदों पर काम करना हमारे लिए सम्मान की बात रही है।

बता दें कि केंद्रीय बैंक की स्वायत्तता सहित कुछ मुद्दों को लेकर सरकार के साथ मतभेद की खबरों के बाद यह अटकलें लगाई जा रहीं थीं कि वह पद छोड़ सकते हैं। माना जा रहा है कि गवर्नर के इस्तीफे के बाद अब डेप्युटी गवर्नर भी पद छोड़ सकते हैं।

उर्जित पटेल के इस्तीफे पर पीएम मोदी ने प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि, डॉ. उर्जित पटेल गहरी समझ के साथ बहुत अच्छी क्षमता के अर्थशास्त्री हैं। उन्होंने अच्छे ढंग से बैंकिंग व्यवस्था का संचालन किया। वह एक महान विरासत को अपने पीछे छोड़ कर गए हैं। उनकी कमी बहुत ज्यादा खलेगी।

वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि, मैं डॉ. उर्जित पटेल को शुभकामना देता हूं और यह कामना करता हूं कि वे लंबे समय तक सार्वजनिक सेवा में काम करते रहें।

आरबीआई गवर्नर उर्जित पटेल के इस्तीफे पर कांग्रेस नेता अहमद पटेल ने कहा कि जिस तरह से RBI गवर्नर को पद छोड़ने के लिए मजबूर किया गया वह भारत की मौद्रिक और बैंकिंग प्रणाली पर एक धब्बा है। बीजेपी सरकार ने वास्तव में वित्तीय आपातकाल को लगा दिया है। देश की प्रतिष्ठा और विश्वसनीयता अब खतरे में हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here