आलिया भट्ट की मां सोनी राजदान ने कश्मीरी छात्रों की सुरक्षा के लिए जारी किया भावुक संदेश

0

जम्‍मू कश्‍मीर के पुलवामा जिले में गुरुवार (14 फरवरी) की शाम को जैश-ए-मोहम्मद के एक आतंकवादी ने विस्फोटकों से लदे वाहन से सीआरपीएफ जवानों की बस को टक्कर मार दी, जिसमें 42 जवान शहीद हो गए। इस घटना ने पूरे देश को झकझोर कर रख दिया है, हर कोई शहादत को नमन कर रहा है। पुलवामा आतंकवादी हमले के बाद देशभर के अलग-अलग हिस्सों से कश्मीरी लोगों पर हमले की खबर भी सामने आई।

पुलवामा

इसी बीच, बॉलीवुड अभिनेत्री आलिया भट्ट की मां सोनी राजदान ने देश भर में कश्मीरी छात्रों को सुरक्षित रखने के लिए एक भावुक संदेश दिया है। राजदान ने लिखा, मेरे प्यारे भारत… हमें दुख है और हम हैरान हैं। कृपया जो हम घृणा करते हैं, यह करने से बचें। उदाहरण के लिए तौर पर कश्मीरी छात्रों को सुरक्षित रखें।

गुरुवार को पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर हुए आतंकी हमले के बाद देशभर के अलग-अलग हिस्सों से कश्मीरी लोगों पर हमले की खबर भी सामने आई। कश्मीरियों को कथित तौर पर दी जा रही धमकियों की खबरों के मद्देनजर श्रीनगर स्थित सीआरपीएफ हेल्पलाइन ने शनिवार को उनसे कहा कि वे किसी भी तरह के उत्पीड़न के मामले में उनसे संपर्क करें। सीआरपीएफ ने कहा है कि वह प्रदेश के लोगों की हरसंभव मदद को पूरी तरह तैयार हैं।

सीआरपीएफ ‘मददगार’ हेल्पलाइन ने इस सिलसिले में एक ट्वीट कर कहा है कि इस समय राज्य से बाहर कश्मीरी छात्र और आम लोग उसके ट्विटर हैंडल @CRPFmadadgaar पर संपर्क कर सकते हैं। किसी भी कठिनाई या उत्पीड़न का सामना करने में शीघ्र सहायता के लिए वे 24 घंटे टोल फ्री नंबर 14411 या 7082814411 पर एसएमएस कर सकते हैं।

वहीं, सोशल मीडिया पर कई और लोग भी कश्मीरी छात्रों की सुरक्षा के लिए आगे आए है। और उन्होंने कश्मीरियों से आग्रह किया कि यदि वे उनके घरों में शरण लेना चाहते हैं तो उनसे संपर्क करें।

गौरतलब है कि गुरुवार (14 फरवरी) की शाम जम्‍मू कश्‍मीर के पुलवामा जिले में जैश-ए-मोहम्मद के एक आतंकवादी ने विस्फोटकों से लदे वाहन से सीआरपीएफ जवानों की बस को टक्कर मार दी, जिसमें 42 जवान शहीद हो गए जबकि कई गंभीर रूप से घायल हैं। इस घटना ने पूरे देश को झकझोर कर रख दिया है, हर कोई शहादत को नमन कर रहा है।

पुलवामा में फिदायीन हमले में शहीद हुए सीआरपीएफ जवान यूपी, पंजाब, बिहार, राजस्थान, मध्य प्रदेश, हिमाचल प्रदेश, कर्नाटक, पश्चिम बंगाल, महाराष्ट्र, जम्मू-कश्मीर, ओडिशा समेत अन्य राज्यों के जवान शामिल थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here