निजता का अधिकार: सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर सरकार का यूं बदला स्टैंड, रविशंकर प्रसाद हुए ट्रोल

1

सुप्रीम कोर्ट द्वारा निजता के अधिकार को भारत के संविधान के तहत मौलिक अधिकार घोषित किए जाने के ऐतिहासिक फैसले को केंद्र सरकार के लिए झटके के तौर पर की जा रही है। इस फैसले पर प्रतिक्रिया व्यक्त करने के लिए केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद मीडिया के सामने आए और फैसले का स्वागत किया किया। लेकिन विपक्ष मोदी सरकार पर यूटर्न लेने का आरोप लगा रही है।दरअसल, इस मामले में सुनवाई के दौरान सरकार ने अपनी दलीलों में जोर देकर कहा था कि निजता के अधिकार को मौलिक अधिकार नहीं माना जा सकता। जबकि, प्रसाद ने गुरुवार को कहा कि सरकार निजता के हक पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले का स्‍वागत करती है। यही नहीं उन्होंने जानकारी दी कि सरकार ने डेटा सुरक्षा के लिए एक बड़ी शक्‍तिशाली कमिटी भी बनाई है।

उन्होंने कहा कि यूपीए बिना किसी कानून के आधार को ले आई थी। हमने आधार को कानूनी जामा पहनाया। उन्होंने कहा कि मैं पूछना चाहता हूं निजी स्वतंत्रता बनाए रखने के लिए कांग्रेस ने क्या किया? उन्होंने अपना आधार कार्ड दिखाते हुए कहा कि इसमें बायॉमेट्रिक डेटा दर्ज है, लेकिन यह पूरी तरह सुरक्षित है। डेटा की सुरक्षा के लिए सरकार ने कानूनी उपाय किए हैं। प्रसाद ने यूपीए पर हमला करते हुए कहा कि पिछली सरकार ने आधार को कानूनी सुरक्षा तक नहीं दी थी।

उन्होंने ट्विटर पर भी लिखा कि सरकार चाहती थी कि निजता के हक को मौलिक अधिकार माना जाए। उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने उस बात की पुष्टि की है जो सरकार ने संसद में आधार विधेयक को पेश करने के दौरान कहा था। निजता को मौलिक अधिकार होना चाहिए लेकिन इसे तर्कसंगत पाबंदी के अधीन होना चाहिए।

कानून मंत्री ने कहा कि फैसला पढ़े बिना सुबह से हमें सिविल लिबर्टी की दुहाई दी जा रही है, जबकि सुप्रीम कोर्ट ने उसी बात को पुष्ट किया है जो संसद में आधार बिल लाते समय सरकार ने कही थी। उन्होंने कहा कि वैयक्तिक स्वतंत्रता की रक्षा को लेकर कांग्रेस का रिकॉर्ड कैसा है यह इमरजेंसी के दौरान दिखा था।

जबकि विपक्ष मोदी सरकार इस मामले में यूटर्न का आरोप लगा रही है। माकपा नेता सीताराम येचुरी ने ट्विटर पर लिखा, निजता के अधिकार पर सरकार के यू-टर्न की कोशिश वाली सरकारी मूर्खता मोदी और शाह की चुप्पी से और बढ़ गई है। साथ ही केंद्रीय मंत्री द्वारा पटली मारे जाने पर सोशल मीडिया पर मोदी सरकार पर जमकर हमला किया जा रहा है।

1 COMMENT

  1. Abhay Dubey‏ @DubeyAbhay_ 9h9 hours ago
    जब से सरकार ने रोजाना पेट्रोल के दाम तय किए हैं, तब से लोगों को यह पता नहीं चल पाता कि इसकी कीमतों में कितना इजाफा हो रहा है।
    2-Abhay Dubey‏ @DubeyAbhay_ 2h2 hours ago
    एक तरफ धारा 370 नही हट रही है, दूसरी तरफ धारा 144 नही लग रही है, राम रहीम के समर्थक धारा 144 में भी सड़कों पर लाखों की संख्या में तैनात।
    3-AAP Express ??‏ @AAPExpress 5h5 hours ago
    सब्सिडी से ज़्यादा भारतीय राजनीति और चुनाव को कालेधन से मुक्त करने की ज़रूरत है, बीजेपी और राजनीतिक दल बगैर PAN No.,पता पूछे पैसा ले लेते है pic.twitter.com/R7DyKGElvo

    4-Abhay Dubey‏ @DubeyAbhay_ 5h5 hours ago
    जय हो बाबाओं की ? pic.twitter.com/6TwoOoCcyi
    5-निजता का अधिकार: सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर सरकार का यूं बदला स्टैंड, रविशंकर प्रसाद हुए ट्रोल http://www.jantakareporter.com/hindi/ravi-shankar-prasad-trolled/144768/
    6-आलोचक दादा™ ©‏ @AaLochakDaDa 6h6 hours ago
    1 लाख फॉलोवर्स तो हाफ़िज़ सईद के कहने पर भी इकट्ठा नही होंगे.!
    सोचिये कौन ज्यादा ख़तरनाक है? पाकिस्तानी हाफ़िज़ या हिंदुस्तानी राम-रहीम.!!!
    7-Abhay Dubey‏ @DubeyAbhay_ 15h15 hours ago
    दिल्ली के प्राइवेट स्कूलों में फीस वापसी करने की होड़ लगी हुई है, दिल्ली सरकार का अच्छा कदम।
    8-Rofl Critic‏ @RoflCritic 4h4 hours ago
    एक बलात्कारी बाबा ने धारा 144 की धज्जियां उड़ा दी और रोज स्टुडीयो में चीन को मारने वाले चैनल सरकार पर सवाल भी नहीं उठा रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here