कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने मार्क जुकरबर्ग को दी तलब करने की चेतावनी, ट्विटर यूजर्स ने लिए मजे

0

ब्रिटिश कन्सल्टिंग कंपनी कैम्ब्रिज एनालिटिका द्वारा पांच करोड़ यूजर्स की जानकारी चुराने के बाद सोशल मीडिया के अग्रणी मंच फेसबुक की मुश्किलें बढ़ती जा रही हैं। इसके साथ ही फेसबुक पर साख का संकट भी मंडरा रहा है। डाटा लीक मामले में यूरोपीय संघ और ब्रिटेन की संसद के बाद अब अमेरिका में भी फेसबुक के खिलाफ इस संबंध में जांच शुरू हो गई है। इस बीच भारत ने भी बुधवार (21 मार्च) को फेसबुक और उसके सीईओ मार्क जुकरबर्ग को कथित तौर पर चुनावी प्रक्रिया को प्रभावित करने के लिए डेटा का दुरुपयोग करने को लेकर सख्त कार्रवाई करने की चेतावनी दी है।

केंद्रीय कानून और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री रविशंकर प्रसाद ने सोशल नेटवर्किंग प्लेटफॉर्म फेसबुक के मुखिया मार्क जुकरबर्ग को चेतावनी दी कि उसके प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल करने वाले 20 करोड़ भारतीयों के डाटा की चेारी या दुरुपयोग के किसी भी प्रयास को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा और ऐसा होने पर सरकार उन्हें भारत में तलब भी करेगी। रविशंकर प्रसाद ने जुकरबर्ग को चेताते हुए कहा कि आईटी कानून में हमारे पास काफी अधिकार हैं। आपको भारत में समन भी किया जा सकता है।

रविशंकर प्रसाद ने संवाददाताओं से बातचीत में कहा कि, “भारत के कानून मंत्री के रूप में मैं स्पष्ट कर देना चाहता हूं कि हम प्रेस की आजादी, भाषण व अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता और सोशल मीडिया पर विचारों के स्वतंत्र आदान-प्रदान का पूरा समर्थन करते हैं।” उन्होंने आगे कहा कि, “लेकिन फेसबुक समेत सोशल मीडिया द्वारा अप्रत्यक्ष या प्रत्यक्ष रूप से अवांछित साधनों के जरिए भारत की चुनाव प्रक्रिया को प्रभावित करने के किसी भी प्रयास की न तो सराहना की जाएगी और न ही उसे बर्दाश्त किया जाएगा।”

कानून मंत्री ने कहा कि, “फेसबुक बिल्कुल स्पष्ट तौर पर यह जान ले कि अगर जरूरी हुआ तो सख्त कार्रवाई की जाएगी।” यह चेतावनी उन खबरों के बीच दी गई है, जिनमें बताया गया है कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की टीम के साथ कार्य कर रही डेटा विश्लेषक कंपनी कैम्ब्रिज एनालिटिका ने कथित तौर अमेरिकी मतदाताओं की लाखों फेसबुक प्रोफाइल का उपयोग उनके मतदान की पसंद को प्रभावित करने के लिए किया है।

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता रविशंकर प्रसाद ने जुकरबर्ग को भारत के सूचना प्रौद्योगिकी कानून की याद दिलाते हुए कहा कि, “अच्छा होगा कि आप भारत के आईटी मंत्री के कथनों पर ध्यान दें।” उन्होंने कहा कि, “अगर किसी भी भारतीय का डेटा फेसबुक की मिलीभगत से लीक होगा तो इसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। हमें आईटी कानून में जरूरी शक्ति प्राप्त है, जिसके तहत आपको भारत में तलब भी किया जा सकता है।”

देखिए, कानून मंत्री द्वारा जुकरबर्ग को दी गई चेतावनी पर यूजर्स ने कैसे लिए मजे

https://twitter.com/JaiKant_Shikree/status/976453971228463106

https://twitter.com/Roflindian/status/976422415252316162?ref_src=twsrc%5Etfw&ref_url=http%3A%2F%2Fwww.jantakareporter.com%2Findia%2Fravi-shankar-prasad-threats-mark-zuckerberg%2F177675%2F&tfw_creator=JantaKaReporter&tfw_site=JantaKaReporter

https://twitter.com/AnthonySald/status/976399718103347200?ref_src=twsrc%5Etfw&ref_url=http%3A%2F%2Fwww.jantakareporter.com%2Findia%2Fravi-shankar-prasad-threats-mark-zuckerberg%2F177675%2F&tfw_creator=JantaKaReporter&tfw_site=JantaKaReporter

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here