दिल्ली: DCW अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने शुरू किया ‘रेप रोको’ अभियान, भारी संख्या में छात्र-छात्राओं ने लिया हिस्सा

0

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में मासूम बच्चियों और महिलाओं से रेप व छेड़छाड़ की बढ़ती वारदातों को लेकर दिल्ली महिला आयोग(डीसीडब्ल्यू) की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने मंगलवार(13 फरवरी) से ‘रेप रोको’ नाम से राष्ट्रीय अभियान शुरू किया है।

स्वाति मालीवाल

बता दें कि, इस अभियान की शुरुआत दिल्ली विश्व विद्यालय मेट्रो स्टेशन से दोपहर 1 बजे मार्च निकाल कर की गई। इस पैदल मार्च में सैकड़ो कॉलेज के छात्र-छात्राओं ने हिस्सा लिया, इस अभियान से आम लोगों को बड़ी संख्या में जोड़ने की कोशिश की जा रहीं है।

उनकी मुख्य मांग छोटे बच्चों से दुष्कर्म करने वालो को 6 माह के भीतर फांसी और दूसरी रेप मामलों में फ़ास्ट ट्रायल है। साथ ही स्वाति ने लोगों से अपील किया कि वो इस अभियान में हिस्सा ले।

Also Read:  पद्मावत विवाद: इतिहासकार इरफान हबीब ने हिंसक विरोध-प्रदर्शन को बताया PR का हिस्सा, कहा- 'मुझे लगता है कि प्रदर्शनकारियों को पैसे दिए गए थे'

बता दें कि, स्वाति मालीवाल ने राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में आठ महीने की एक बच्ची के यौन शोषण पर केंद्र सरकार से दोषी व्यक्ति को छह महीने के अंदर फांसी की सजा दिए जाने की मांग की थी। साथ ही स्वाति ने 30 दिनों का सत्याग्रह का एलान किया था।

बता दें कि, आज स्वाति के सत्याग्रह का 14 वां दिन है, वो 14 दिन से वह घर नही गई है। उनका कहना है कि 8 मार्च तक मैं घर नही जाऊंगी। इस सत्याग्रह में उसे सबसे ज्यादा डीयू के छत्रों का सहयोग मिल रहा है।

Also Read:  पत्रकारों से बोले भगवंत मान, 'आप' को नहीं है मीडिया की ज़रूरत, रैली से निकल जाइए

बता दें कुछ दिनों पहले स्वाति ने महिलाओं की सुरक्षा के लिए एक चार्टर भी तैयार किया था। उन्होंने पीएम मोदी से अपील की है कि वह खुद बच्चियों से रेप के मामलों पर गौर करते हुए उनकी हाई लेवल कमिटी की मांग पूरी करवाएं।इसमें एलजी, केंद्र सरकार, राज्य सरकार, दिल्ली पुलिस और दिल्ली महिला आयोग शामिल हों। यह कमिटी रेप के दोषियों को 6 महीने के अंदर फांसी देने की सजा पर कानून लाने के लिए और विमिन सेफ्टी के बाकी मुद्दों का हल निकालने के लिए काम करे।

 

Also Read:  दिल्ली: मुस्लिम लड़की से प्यार करने पर 23 वर्षीय अंकित सक्‍सेना की गला रेत कर हत्या, इलाके में तनाव बढ़ा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here