रणदीप हुड्डा बोले- ट्वीट करते वक्त मुझे सतर्क रहना चाहिए था, गुरमेहर कौर ने साधा निशाना

0

गुरमेहर कौर मामले में एक ट्वीट को लेकर सोशल मीडिया पर ट्रोल हुए अभिनेता रणदीप हुड्डा ने बुधवार(8 मार्च) को सफाई देते हुए कहा कि उन्हें गुरमेहर कौर से संबंधित अपने ट्वीट पर सावधानी बरतनी चाहिए थी। रणदीप ने कहा कि मुझे कोई भी प्रतिक्रिया देने से पहले हमारे देश में महिलाओं के प्रति फैली भावनाओं को देखना और समझना चाहिए था। शायद ये मेरी गलती थी और भविष्य में किसी महिला या किसी संवेदनशील मुद्दे पर अपनी राय देते हुए मुझे और सतर्क होने की जरुरत है।

रणदीप हुड्डा की सफाई पर गुरमेहर कौर ने निशाना साधा है। कौर ने अपने टि्वटर अकाउंट पर ट्वीट किया है, ‘मैंने ट्वीट नहीं किया, मेरे हाथों ने ऐसा किया।’ इस ट्वीट के साथ गुरमेहर कौर ने रणदीप हुड्डा की सफाई वाली खबर का लिंक भी पोस्ट किया है।

क्या है पूरा मामला?

दरअसल, दिल्ली विश्वविद्यालय के रामजस कॉलेज में हिंसक झड़पों के कुछ दिन बाद लेडी श्रीराम कॉलेज की छात्रा और कारगिल शहीद कैप्टन मनदीप सिंह की बेटी गुरमेहर कौर ने सोशल मीडिया पर एक अभियान शुरू किया, जिसका नाम है- ‘मैं एबीवीपी से नहीं डरती।’ यह अभियान सोशल मीडिया पर वायरल हो गया।

कैंपेन वायरल होने के बाद गुरमेहर कौर एक पुराना वीडियो सामने आया था। जिसमें उन्हें तख्ती लिखे हुए दिखाया गया है, जिस पर लिखा है- “पाकिस्तान ने मेरे पिता को नहीं मारा, जंग ने उन्हें मारा।

गुरमेहर की इस तस्वीर पर क्रिकेटर वीरेंद्र सहवाग ने एक ट्वीट के जरिए तंज कसते हुए वैसी ही अपनी एक फोटो भी ट्वीट कर दी, जिसमें उनके हाथ में एक तख्ती है और उस पर लिखा है, ‘मैंने नहीं मेरे बल्ले ने दो तिहरे शतक मारे थे।’  इसमें उन्होंने लिखा- बैट में है दम! #BharatJaisiJagahNahi.

सहवाग के इस ट्वीट पर रणदीप हुड्डा ने भी परोक्ष रूप से समर्थन करते हुए प्रतिक्रिया दी थी। रणदीप हुड्डा ने इसे व्यंग्यात्मक तंज कहते हुए इसकी सराहना की थी।

हालांकि बाद में रणदीप ने सोशल साइट फेसबुक के जरिए अपना पक्ष रखते हुए एक बेहद लंबा संदेश पोस्ट किया। अपने पोस्ट पर रणदीप ने लिखा, ‘एक हंसी के लिए मुझे फांसी पर मत चढ़ाओ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here